एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह
एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह

युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह

महिला का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एसडीएम चार साल तक उसका शारीरिक शोषण करते रहे और कई बार उसका अबॉर्शन कराया.
एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले में देर रात एसडीएम को शादी रचानी पड़ी. एसडीएम पर उनकी महिला मित्र ने यौन शोषण का आरोप लगाया था. जिसके बाद उन्होंने उससे शादी कर ली.

शुक्रवार को कुशीनगर के कलेक्ट्रेट ऑफिस पर दिन भर हाई प्रोफाईल ड्रामा चला. दरअसल खड्डा तहसील में एसडीएम रहे दिनेश कुमार की पूर्व महिला मित्र ने उनपर शादी का झांसा देकर शारीरिक शोषण करने का आरोप लगाया था.

कई बार अबॉर्शन कराया

महिला का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एसडीएम चार साल तक उसका शारीरिक शोषण करते रहे. और कई बार उसका अबॉर्शन कराया. पीड़िता की मानें तो शादी का दबाव बनाने पर एसडीएम ने उसकी बुरी तरह पिटाई भी की.

कलेक्ट्रेट के एडीएम ऑफिस में यह फिल्मी ड्रामा दिन भर चलता रहा. मामला साहब लोगों से जुड़ा था तो इस प्रकरण में डीएम, एडीएम सभी अधिकारी बंद कमरे में पीड़ित महिला को समझाते रहे लेकिन महिला एसडीएम साहब से शादी करने पर अड़ी थी.

हिंदू रीति रिवाज से हुई दोनों की शादी

अफसरों ने उनसे कहा कि आरोप गंभीर है और करियर का भी सवाल है. अपने को बुरी तरह से फंसता देख एसडीएम शादी के लिए राजी हुए. शुक्रवार-शनिवार रात एक बजे गायत्री मंदिर में पुजारी सुरेश मिश्रा ने बकायदा हिंदू रीति रिवाज से दोनों की शादी करवाई.

एसडीएम पडरौना रामकेश यादव व एसडीएम हाटा प्रमोद कुमार तिवारी इस शादी के गवाह बने. आपको बता दें कि कुछ दिन पूर्व एडीएम दिनेश कुमार का हापुड़ जिले में स्थानांतरण हुआ था जिसके बाद वह ज्वॉइन करने हापुड़ चले गए थे.

आज वह अपना सामान लेने आए तो साथ में रह रही महिला ने उनपर शादी करने का दवाब बनाया लेकिन जब एसडीएम अपनी बात से मुकर गए तो महिला ने उनकी शिकायत करने का मन बनाया. जिसके बाद महिला डीएम दफ्तर पहुंच गई जहां पूरा दिन हाई प्रोफाईल ड्रामा चला और अंत में एसडीएम साहब को रात में डेढ़ बजे अग्नि को साक्षी मानकर सात फेरा लगाना पड़ा.

एसडीएम ने दी ये सफाई

वहीं एसडीएम दिनेश कुमार ने कहा कि लड़की बार-बार मनगढ़ंत आरोप लगा रही थी. एक बार वह अपनी मां के साथ लड़की के घर शादी करने की बात करने गए थे, पर उसने ही इनकार कर दिया था.

इसके बाद भी कभी वह पैसे और कभी नौकरी दिलाने की बात कहती थी. इससे समझ में नहीं आ रहा था कि वह ब्लैकमेल कर रही है या शादी कर साथ रहेगी. अब उन्होंने शादी कर ली है और पति-पत्नी की तरह साथ हैं.

ये भी पढ़ें-

मॉब लिंचिंग के खिलाफ बोलने पर खूब पड़ी गालियां, काम भी मिल रहा है कम: नसीरुद्दीन शाह

अयोध्या केस: सोमवार का दिन ऐतिहासिक, सुप्रीम कोर्ट में पूरी हो जाएगी सुनवाई!

एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह
एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह

Related Posts

एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह
एसडीएम, युवती ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप, SDM ने आधी रात को रचाई शादी, अफसर बने गवाह