Weather Updates: भारी बारिश से बेहाल उत्तराखंड, कहीं सड़क धंसी तो कहीं दरक गए पहाड़

राज्य के चमोली जिले (Chamoli District) में भारी बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. भूस्खलन से बद्रीनाथ नेशनल हाईवे पर वाहनों की आवाजाही रूक गई है.
raining heavily many parts, Weather Updates: भारी बारिश से बेहाल उत्तराखंड, कहीं सड़क धंसी तो कहीं दरक गए पहाड़

उत्तराखंड (Uttarakhand) के कई हिस्सों में भारी बारिश (Rain) हो रही है. राज्य की कई नदियों में पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने बताया है कि आने वाले 2-3 दिनों में बारिश का सिलसिला ऐसे ही जारी रहेगा.

अगले 2-3 दिन में भारी बारिश का अनुमान

IMD के अलावा अन्य एजेंसियों ने भी उत्तराखंड में बारिश को लेकर अजर्ट भेजा है. एजेंसियों ने आगाह किया है कि आने वाले 2-3 दिनों में राज्य में बाढ़ के हालात पैदा हो सकते हैं.

राज्य आपदा प्रबंधन केंद्र ने गुरुवार को राज्य में भारी बारिश की आशंका जताई है. सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि हर तरह की सावधानी बरती जाए और जरूरतमंदों तक तुरंत मदद पहुंचे.


चमोली जिले में नदियों का जलस्तर बढ़ा

राज्य के चमोली जिले में भारी बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. भूस्खलन से बद्रीनाथ नेशनल हाईवे पर वाहनों की आवाजाही रूक गई है.

चमोली की जिलाधिकारी स्वाति एस. भदौरिया ने बताया, “भारी बारिश से कई सड़कें बंद हो गई थीं. ज्यादातर जगहों पर सड़कों को खुलवाया जा चुका है.”

पिथौरगढ़ जिले के धारचूला में लगातार हो रही बारिश

राज्य के पिथौरगढ़ जिले के धारचूला में लगातार हो रही बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ गया और भूस्खलन की वजह से कई सड़कें बंद हो गईं. धारचूला के एसडीएम ने बताया, “भूस्खलन की वजह से कम से कम 12-14 परिवार प्रभावित हुए हैं और उनको सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है.”

उत्तराखंड के पहाड़ों से लेकर मैदानों तक इन दिनों भारी बारिश के चलते तबाही का मंजर देखने को मिल रहा है. कहीं पहाड़ दरक रहे हैं तो कहीं नदियां दरक रही हैं.

भारी बारिश से बढ़ती जा रहीं मुश्किलें

राज्य में लगातार हो रही बारिश से मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. गढ़वाल में भी बारिश और भूस्खलन से काफी नुकसान हुआ है. बुधवार को पिथौरागढ़ जिले में जोरदार बारिश हुई. जिससे अस्कोट-कर्णप्रयाग मार्ग पर बेरीनाग व थल के मध्य सड़क धंस गई.

कई जगहों पर भूस्खलन के कारण नुकसान हुआ है. बदरीनाथ क्षेत्र के 14 गांवों में दो दिन से विद्युत आपूर्ति ठप है. हालांकि, केदारनाथ हाईवे पांच दिन बाद सुचारू हो गया है, लेकिन प्रदेश में अब भी करीब 65 मार्गों पर आवाजाही रूकी हुई है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts