तेज प्रताप यादव के बगावती तेवर, कहा- जिसको जनता चाहेगी हम उसके साथ हैं, देखें VIDEO

पिछले साल बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने लालू परिवार पर तेज प्रताप के साथ अन्याय करने का आरोप लगाया था.

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप और छोटे बेटे तेजस्वी यादव के बीच पिछले कई महीनों से चल रहा विवाद अब खुलकर सामने आ गया है. तेज प्रताप यादव गुरुवार को पार्टी से अलग दो प्रत्याशियों का ऐलान करने वाले थे हालांकि इसे स्थगित कर दिया गया और कुछ देर बाद ही तेज प्रताप ने पार्टी की स्‍टूडेंट विंग से इस्‍तीफा दे दिया. वो शिवहर के अलावा जहानाबाद से भी अपनी पसंद के उम्मीदवार को टिकट दिलाना चाहते थे. जहानाबाद से चंद्र प्रकाश उनके पसंदीदा उम्मीदवार थे. लेकिन उम्मीदवारों की घोषणा होने पर यह साफ हो गया कि तेज प्रताप की जहानाबाद सीट को लेकर भी नहीं चली. आरजेडी ने इस सीट से सुरेंद्र यादव को उम्मीदवार बनाया है.

तेज प्रताप यादव ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि जनता जिसे जिताना चाहेगी हम उसका साथ देंगे. तेजस्वी यादव ने नाराज चल रहे बड़े भाई तेज प्रताप के श्वसुर चंद्रिका राय को सारण लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है, वहीं दूसरी ओर शिवहर की सीट खाली रखी है क्योंकि तेज प्रताप वहां से अपने पसंद का उम्मीदवार उतारना चाहते हैं. बताया जा रहा है कि तेज प्रताप यहां से अंजेश सिंह को राजद उम्मीदवार बनाने के ख्वाहिशमंद हैं लेकिन तेजस्वी की ये कोशिशें फेल होती दिख रही हैं. पटना के मौर्य होटल में उम्मीदवारों के एलान के ठीक बाद खबर मिल रही है कि तेज प्रताप अपने ही श्वसुर के खिलाफ सारण से ताल ठोक सकते हैं.