तिरंगे में लिपटकर आया एनकाउंटर में शहीद कश्‍मीरी जवान का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन के लिए जुटे हजारों

Share this on WhatsApp पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय सुरक्षाबलों की ओर से एक ऑपरेशन चलाया गया था. इस ऑपरेशन में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया था. लेकिन इसमें भारतीय सेना के एक मेजर समेत पांच जवान शहीद हो गए थे. शहीद होने वालों में हेड कॉन्‍स्‍टेबल अब्दुल रशीद भी […]


पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारतीय सुरक्षाबलों की ओर से एक ऑपरेशन चलाया गया था. इस ऑपरेशन में सुरक्षाबलों ने तीन आतंकियों को मार गिराया था. लेकिन इसमें भारतीय सेना के एक मेजर समेत पांच जवान शहीद हो गए थे. शहीद होने वालों में हेड कॉन्‍स्‍टेबल अब्दुल रशीद भी शामिल थे. राशिद जम्मू-कश्मीर पुल‍िस में इस पद पर तैनात थे.

शहीद कॉन्‍स्‍टेबल अब्दुल राशिद का आज (बुधवार) को जनाजा निकाला गया. इस दुख की घड़ी में उनके घर पर हजारों लोग इकट्ठा हुए थे. राशिद का शव तिरंगे में लपेटकर उनके घर लाया गया. वीडियो में देखा जा सकता है कि राशिद के परिजन उनके जाने के गम में रो-बिलख रहे हैं. घाटी के तंगधार में स्थित उनके घर का पूरा माहौल बहुत ही गममीन था. भारी संख्या में लोग शहीद राशिद के अंतिम दर्शन के लिए आए थे.

अब्दुल रशीद का जन्म साल 1989 में हुआ था. उनकी उम्र 30 साल थी. वो साल 2008 में पुलीस में भर्ती हुए थे. अब्दुल की साल 2011 में शादी हुई थी. वे अपने पीछे दो बेटियां छोड़ गए हैं. अब्दुल की बड़ी बेटी पांच साल की और छोटी केवल आठ महीने की ही है. पूरा परिवार इस समय गम में डूबा हुआ है.