जौनपुर में चोरी के आरोप में 3 दलित लड़कों को मिली तालिबानी सजा, कपड़े उतारकर बेल्ट से पीटा

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में तीन दलित युवकों को चोरी के आरोप में पीटने और उनका वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल करने का मामला सामने आया है.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के जौनपुर से तीन दलित युवकों की बुरी तरह से पिटाई का मामला सामने आया है. मामला सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के गुलालपुर गांव का है. चोरी के आरोप में इन युवकों को भीड़ ने लात-घूसों और बेल्ट से पीटा. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

बताया जा रहा है की, इन तीन युवकों की पिटाई एक कॉपी-किताब की दूकान में चोरी के प्रयास के आरोप में की गई. लड़कों को पुलिस के हवाले करने के बाजए गुसाई भीड़ ने उनके कपड़े उतारकर उन्हें बुरी तरह से पीटा. इसके साथ ही पिटाई का वीडियो बनाकर इसे सोशल मीडिया पर वायरल भी किया गया.

युवकों पर कॉपी-किताब की दूकान का शटर तोड़ने की कोशिश का आरोप था, इस आरोप की अभी तक पुष्टि नहीं हो पाई है. एक व्यक्ति ने पहले इन युवकों को पीटना शुरू किया, जिसके बाद भीड़ ने उनकी बुरी तरह लात-घूसों से पिटाई की. वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस को जानकारी मिली, लेकिन हैरानी की बात है कि पुलिस ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है. न ही पुलिस मौके पर पहुंची और न ही कोई जानकारी लेने की कोशिश की गई है.

हाल के दिनों में यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं. कुछ दिन पहले कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी यूपी की कानून व्यवस्था के ध्वस्त होने का आरोप लगाया था.

ये भी पढ़ें: मेरठ जिला पंचायत उपचुनाव: बूथ कैप्चरिंग का विरोध करने पर प्रधानपुत्र की गोली मारकर हत्या

ये भी पढ़ें: जन्म देने वाले ही बन गए हत्यारे, 16 साल की बेटी को मां-बाप ने मारा फिर गंगा में दिया फेंक