स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

स्वीडन के राजा और रानी सोमवार को दिल्ली पहुंचे और जामा मस्जिद का टूर किया.

स्वीडन के राजा कार्ल सोलहवें गुस्ताफ और रानी सिल्विया सोमवार को दिल्ली पहुंच गए. एयर इंडिया की फ्लाइट से शाही जोड़े ने स्टॉक होम से उड़ान भरी थी. एयर इंडिया ने अपने ट्विटर हैंडल पर इनके दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचने की तस्वीरें शेयर की थीं.

Sweden king and queen Jama Masjid tour gallery, स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

तस्वीरें शेयर होने के बाद सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं जिनमें राजा को अपना बैग खुद उठाए देखा जा सकता है. ये तस्वीर सामने आने के बाद लोगों ने स्वीडन के राजा की जमकर तारीफ की.

Sweden king and queen Jama Masjid tour gallery, स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

एयर इंडिया ने ट्विटर पर तस्वीर साझा करते हुए लिखा ‘स्वीडन के राजा कार्ल गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने AI168 स्टॉकहोम से दिल्ली की यात्रा की.’ इस तस्वीर में स्वीडन के राजा को देखकर लोगों ने प्रेरक पर्सनैलिटी बताया.

Sweden king and queen Jama Masjid tour gallery, स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

शाही जोड़ा सोमवार को पांच दिवसीय भारत यात्रा पर पहुंचा है. राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया गया. दिल्ली में जामा मस्जिद, लाल किला और गांधी स्मृति भवन जाने का इनका कार्यक्रम था. पहले दिन जामा मस्जिद से उनकी तस्वीरें आप देख सकते हैं.

Sweden king and queen Jama Masjid tour gallery, स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

सोमवार को राजा और रानी ने अपने विदेश मंत्री, उद्योग मंत्री व अन्य प्रतिनिधियों के साथ जामा मस्जिद की सैर की. स्वीडन दूतावास के मुताबिक जामा मस्जिद के डिप्टी शाही इमाम सैयद शाबान बुखारी ने उन्हें मस्जिद भ्रमण कराते हुए उसके आध्यात्मिक, पुरातात्विक और ऐतिहासिक महत्व को बताया.

Sweden king and queen Jama Masjid tour gallery, स्वीडन के राजा गुस्ताफ और रानी सिल्विया ने की जामा मस्जिद की सैर, देखें तस्वीरें

इस यात्रा के दौरान द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के लिए दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए जा सकते हैं. 2018 में दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 3.37 अरब डॉलर का हुआ था.