‘…कि तेरा इंतजार है’, शहीद कैप्टन दीक्षांत थापा की गर्लफ्रेंड ने सुनाई लव स्टोरी

सोशल मीडिया (social media) पर लोग इस पोस्ट को काफी शेयर कर रहे हैं और तब्बू के इंस्टाग्राम हैंडल से किए गए पोस्ट पर कमेंट्स भी कर रहे हैं.
captain dixant thapa girlfriend note, ‘…कि तेरा इंतजार है’, शहीद कैप्टन दीक्षांत थापा की गर्लफ्रेंड ने सुनाई लव स्टोरी

देश ने कुछ दिन पहले ही सेना के एक युवा अधिकारी को दुखद हादसे में खो दिया. लद्दाख में हथियारों की लोडिंग के दौरान हुए हादसे में 30 साल के कैप्टन दीक्षांत थापा की मौत हो गई थी. उनकी मौत की खबर से सभी दुखी हैं. परिवार में मातम पसरा हुआ है. इस बीच उनकी गर्लफ्रेंड ने एक इमोशनल पोस्ट शेयर की है.

इंस्टाग्राम पर किए गए इस पोस्ट में तब्बू दीक्षांत ने कैप्टन दीक्षांत को याद करते हुए बेहद इमोशनल बातें लिखी हैं, जिन्हें पढ़कर लोगों की आंखें नम हो रही हैं. उन्होंने अपनी पोस्ट में बताया कि वो कैसे 2012 में फेसबुक पर कैप्टन दीक्षांत से मिली थीं और किस तरह वो एक दूसरे को अपने सपनों और लाइफ से जुड़ी हर एक बात बताया करते थे.

पहली बार कब और कैसे हुई मुलाकात 

उन्होंने लिखा है कि मुझे आज भी याद है कैसे हम पहली बार धर्मशाला में एक मेले में मिले थे और दीक्षांत अपने आपको एक कूल लड़के के जैसे समझ रहा था और मैं ऑक्वर्ड थी. वो एक बैंड में ड्रमर था, जब भी मैं उसके शो में जाती थी तो मेरा दिल भी जोर से धड़कता था. उसने एक बार मुझे सॉन्ग भी डेडिकेट किया था.

सोशल मीडिया पर लोग इस पोस्ट को काफी शेयर कर रहे हैं और तब्बू के इंस्टाग्राम हैंडल से किए गए पोस्ट पर कमेंट्स भी कर रहे हैं. लोग कमेंट में कह रहे हैं कि भगवान आपको शक्ति दे. हम आपके प्यार पर गर्व है.

View this post on Instagram

All of it comes back to square one. Dixant Thapa. My Dixu. He's gone and travelled to a better place now but will always be in my heart forever. And now when I look back, I just get dazzled to think that how did I get so damn lucky! Where in the world did I find a man so perfect, so charming, and yet have him loving me! I met him first on facebook in 2012 when we were freshly arrivals of teenage! I was a freckled, shy girl and he was a dark kid who loved music. We talked and talked till suddenly it was 2014 and our hormones kicked in and the man finally asked me out to which I obviously said yes! (Because, hormones okay? ) I still remember when I first met you in Dharamshala at a fair where he was pretending to be this cool kid and I was being awkward self. We were yummy! You always told me how much you wanted to join the defense and how you'll go to any lengths for it! I was mesmerized by him. We went to the same college! He was in the band, the drummer you see! My heart used to skip a beat every time I attended his shows. Oh! And once he even dedicated this song for me"choo lo" By the Local Train. Hah! How will I ever listen to this song again! You have given so much of yourself to me that it's hard to let go now. It's hard to imagine a life where you won't be singing to me every night on video call, where you won't be recording me unnecessarily and posting my pictures all the time like I am your god damn trophy! When I look back from my childhood to teenage years till adulthood, you're there in every phase, in every memory. How can I not think about you all the time? So many plans, so many wishes, so much love and yet its all dust now like it was never there! I don't know what happens to souls once they are gone but if by any chance, even a fraction of it, there is a way to fall in love with you again, to meet you again through facebook and walk alongside you in a fair and sleep to your voice on call, I promise I'll do it all over again.. For you my love, forever in my heart.. Khada hun aaj bhi wahi… Ki tera intezaar hai…

A post shared by Tabbu Dixant. (@tabbudixant) on

कैसे गई कैप्टन की जान
बता दें कि लद्दाख के कारू-कियारी के पास एक ट्रेलर ने पैदल सेना के एक लड़ाकू वाहन को टक्कर मार दी थी. ये हादसा उस वक्त हुआ था जब बीएमपी (इन्फैंट्री फाइटिंग व्हीकल) लोड किया जा रहा था. इस दौरान एक ट्रेलर ने सिविल ट्रक को टक्कर मारी और वो फिसल गया. इस हादसे में कैप्टन थापा की मौत हो गई.

Related Posts