Make In India के तहत मुफ्त में लैपटॉप बांट रही मोदी सरकार? जानें सच

ऐसे ही संदेश साल 2018 और 2017 के लिए भी वायरल किए गए थे.
Make In India, Make In India के तहत मुफ्त में लैपटॉप बांट रही मोदी सरकार? जानें सच

नई दिल्‍ली: सोशल मीडिया वेबसाइट्स और चैटिंग एप्‍स पर एक संदेश वायरल हो रहा है. इसमें कहा गया है कि ‘नरेंद्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने की खुशी में केंद्र सरकार ने Make In India के तहत मुफ्त लैपटॉप देने का ऐलान किया है.’

यह मेसेज कुछ वेबसाइट्स के लिंक्‍स के साथ फैलाया जा रहा है जिनमें www.laptopyojana.com, www.modi-laptop.wishguruji.com, www.modi-laptop.wish-karo-yar.tk जैसे एड्रेस शामिल हैं. केंद्र सरकार की ओर से सफाई जारी कर ऐसे संदेशों का खंडन किया गया है.

मोदी सरकार ने साफ किया है कि यह संदेश फर्जी हैं. इस बारे में IT एक्‍ट की धारा 66D के तहत एफआईआर भी दर्ज कराई गई है. थोड़ी जांच के बाद पुलिस ने राजस्‍थान के नागौर से राकेश जांगीड को गिरफ्तारी किया है. वह IIT-कानपुर के 2019 बैच का पोस्‍ट-ग्रैजुएट है. ऐसी रिपोर्ट्स हैं कि उसी ने अपने भाई के साथ मिलकर वेब एडवर्टाइजिंग से पैसा बनाने को ये वेबसाइट्स बनाईं.

ऐसे ही संदेश साल 2018 और 2017 के लिए भी वायरल किए गए थे.

Make In India, Make In India के तहत मुफ्त में लैपटॉप बांट रही मोदी सरकार? जानें सच Make In India, Make In India के तहत मुफ्त में लैपटॉप बांट रही मोदी सरकार? जानें सच

Make In India के अलावा ‘लैपटॉप योजना’ के नाम पर भी फर्जीवाड़ा हो रहा है. www.laptopyojana.com एड्रेस वाली एक वेबसाइट पर एक फॉर्म भी भरने को मौजूद है. इसके अलावा यहां लिखे संदेश में लोगों से 210 रुपये रजिस्‍ट्रेशन के मांगे गए हैं. इस वेबसाइट पर कोई बाहरी विज्ञापन नहीं हैं. अगर रजिस्‍ट्रेशन करने वाला भुगतान करता है तो वह ठगी का शिकार होगा.

Make In India, Make In India के तहत मुफ्त में लैपटॉप बांट रही मोदी सरकार? जानें सच

वेबसाइट पर लिखा गया है “मोदी सरकार ने हर साल की तरह इस साल भी 2019 में विद्यार्थी को मुफ्त लैपटॉप वितरण योजना प्रारम्भ कर दी है और ऑनलाइन आवेदन रजिस्ट्रेशन पंजीकरण आरम्भ भी हो गया है.”

ये भी पढ़ें

“PM मोदी का फैसला, आज रात से पूरे भारत में बंद हो जाएगी शराब”

ममता बनर्जी ने जिन्हें खिलाया था खाना, कहां गए वो लोग?

BJP नेता प्रतापचंद्र सारंगी को ग्राहम स्टेन्स हत्याकांड का दोषी बता रहा सोशल मीडिया

Related Posts