यूरोपीय यूनियन ने फेसबुक को दिया आदेश पूरी दुनिया से हटाओ हेट स्‍पीच

अदालत के इस फैसले से यूरोपीय सोशल मीडिया कंपनियां बेहद खुश हैं.
Facebook Can Be Forced to Delete Content Worldwide, यूरोपीय यूनियन ने फेसबुक को दिया आदेश पूरी दुनिया से हटाओ हेट स्‍पीच

लंदन: यूरोपीय यूनियन की सर्वोच्च अदालत ने बुधवार को कड़ा फैसला सुनाते हुए फेसबुक से ऑट्रियन लीडर के खिलाफ लिखी गईं हेट स्‍पीच हटाने का आदेश दिया है. सबसे अहम बात यह है कि यूरोपीय यूनियन की अदालत ने यह फैसला पूरी दुनिया के सोशल मीडिया कॉन्‍टेंट को लेकर दिया है.

अदालत के इस फैसले से यूरोपीय सोशल मीडिया कंपनियां बेहद खुश हैं. उनका मानना है कि फेसबुक पर यूरोपीय यूनियन के नियम लागू नहीं हो रहे हैं, इसलिए वह आगे निकल रहा है.

यूरोपीय कंपनियां चाहती थीं कि अमेरिकी कंपनी फेसबुक पर भी यूरोपीय यूनियन के नियम लागू हों, जिससे उस पर भी कुछ अंकुश लगे.

यूरोपीय कोर्ट ऑफ जस्टिस ने आदेश में कहा कि फेसबुक भी अपने प्लेटफॉर्म से घृणा फैलाने वाला कंटेंट हटाए और ऐसे कार्य में लिप्त लोगों के अकाउंट बंद करे. अदालत का यह आदेश ऑस्ट्रिया की कोर्ट में चले मामले से होता हुआ यूरोपीय यूनियन की अदालत पहुंचा.

ऑस्ट्रिया में ग्रींस पार्टी की नेता ईवा ग्लाविचनिग पीसचेक ने अदालत से मांग करते हुए कहा कि फेसबुक पर उनके खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणियों को हटाया जाए.

ईवा ग्लाविचनिग पीसचेक ने पहले यह मामला ऑस्ट्रिया के हाई कोर्ट में उठाया था, जिसके बाद केस को यूरोपीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में ट्रांसफर कर दिया गया. अब यह फैसला पूरे यूरोप में लागू होगा. किसी यूरोपीय शख्स के खिलाफ फेसबुक पर मौजूद आपत्तिजनक सामग्री दुनिया में कहीं भी देखी-पढ़ी जा रही है तो पीड़ित यूरोपीय अदालत में शिकायत कर सकता है. अदालत ने फेसबुक से आपत्तिजनक सामग्री को पूरे नेटवर्क से हटाने के लिए कहा है.

दूसरी ओर फेसबुक ने अदालत के फैसले को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर रोक बताया है.

Related Posts