पाकिस्तान: तेल कंपनी के काफिले पर आतंकवादियों का हमला, 14 लोगों की मौत

पाकिस्तान (Pakistan) के अशांत दक्षिणीपश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान (southwestern province of Balochistan) में तेल एवं गैस कर्मियों के एक काफिले को आतंकवादियों (Terrorists)ने निशाना बनाया, जिसमें सात सैनिकों समेत 14 लोगों की मौत हो गई.

पाकिस्तान: तेल कंपनी के काफिले पर आतंकवादियों का हमला, 14 लोगों की मौत

पाकिस्तान (Pakistan) के अशांत दक्षिणीपश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान (southwestern province of Balochistan) में तेल एवं गैस कर्मियों के एक काफिले को आतंकवादियों (Terrorists) ने निशाना बनाया, जिसमें सात सैनिकों समेत 14 लोगों की मौत हो गई. यह काफिला अर्द्धसैनिक बलों की सुरक्षा में जा रहा था. रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस हमले की निंदा की है. यह हमला गुरुवार को सरकारी ऑयल एंड गैस डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड (OGDCL) के कर्मियों पर ग्वादर जिले के ओरमारा कस्बे में हुआ.

ये भी पढ़ें: दुनिया भर में दो घंटे ठप रही ट्विटर की सेवा, कंपनी ने कहा- ‘हैकिंग के नहीं मिले कोई सबूत’

पाकिस्तानी सेना की मीडिया शाखा अंतर-सेवा जन संपर्क (ISPR) ने इस घटना की पुष्टि की. आईएसपीआर ने बताया कि ‘हमले के दौरान गोलीबारी में आतंकवादियों को भी क्षति पहुंची है. इस हमले में फ्रंटियर कोर (FC) के सात सैनिक और सात निजी सुरक्षा गार्ड की मौत हो गई’. ग्वादर में एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘आतंकवादियों ने बलूचिस्तान-हब-कराची तटीय राजमार्ग पर ओरमारा के निकट पहाड़ों से काफिले पर हमला किया था. घटना के दौरान दोनों ही तरफ से भारी गोलीबारी हुई. यह काफिला ग्वादर से कराची लौट रहा था’. उन्होंने बताया कि ‘इस हमले को साजिश के तहत अंजाम दिया गया है और आतंकवादियों को पहले से ही काफिले के कराची जाने की जानकारी थी. वे काफिले की प्रतीक्षा कर रहे थे. एफसी के अन्य कर्मी काफिले को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने में सफल रहे.

चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) की मुख्य विकास परियोजनाओं में ग्वादर बंदरगाह अहम है और सरकारी संस्थानों के अधिकारी तथा विदेश कर्मचारी यहां भारी सुरक्षा के बीच काम करते हैं. किसी भी प्रतिबंधित अलगाववादी संगठन, आतंकवादी संगठन या किसी अन्य समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. रेडियो पाकिस्तान की खबर के मुताबिक प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस हमले की निंदा करते हुए इस पर रिपोर्ट मांगी है. खान ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना जाहिर की है.

ये भी पढ़ें: महिला अधिकारों पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, घरेलू हिंसा पीड़िता को ससुराल में रहने का अधिकार

Related Posts