ऑस्ट्रेलिया : जंगल में लगी भीषण आग, पीड़ितों को मुफ्त भोजन परोस रहा भारतीय रेस्तरां

सितंबर में आग लगने के बाद से विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं और दर्जनों लापता हैं. आग ने अब तक 1,300 से अधिक घरों को नष्ट कर दिया है.
Australia fire, ऑस्ट्रेलिया : जंगल में लगी भीषण आग, पीड़ितों को मुफ्त भोजन परोस रहा भारतीय रेस्तरां

ऑस्ट्रेलिया में स्थित एक भारतीय रेस्तरां के मालिक विक्टोरिया राज्य में जंगल में लगी आग से प्रभावित लोगों को मुफ्त में भोजन खिला रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कंवलजीत सिंह और उनकी पत्नी कमलजीत कौर पूर्वी विक्टोरिया के बर्न्‍सडेल में देसी ग्रिल रेस्तरां के मालिक हैं, जहां आग ने घरों को नष्ट कर दिया और एक शख्स की मौत हुई है.

दंपति और उनके कर्मचारी कढ़ी और चावल पका रहे हैं, जो मेलबर्न स्थित चैरिटी सिख वॉलंटियर्स ऑस्ट्रेलिया द्वारा अस्थायी आश्रय में रहने वालों को दिया जा रहा है. सिंह, छह साल से इस इलाके में रह रहे हैं. उन्होंने कहा कि उन्हें लगा कि उनके साथी ऑस्ट्रेलियाई लोगों की मदद करना उनका ‘कर्तव्य’ है.

उन्होंने मीडिया से कहा, “यह भयानक है. लोग गंभीर रूप से प्रभावित हैं और उन्हें भोजन और आश्रय की आवश्यकता है. यह हमारा कर्तव्य है कि हम उनकी सेवा करें जब उन्हें हमारी सबसे ज्यादा जरूरत है.” उन्होंने कहा, “हम सिखों के जिंदगी जीने के तरीके का अनुसरण कर रहे हैं. हम सिर्फ वही कर रहे हैं जो अन्य ऑस्ट्रेलियाई आज कर रहे हैं और यह उन लोगों के लिए सेवा और प्रार्थना करना है जो इन जंगल में लगी भयावह आग से बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं.”

सिंह ने कहा कि उनकी टीम ने स्वयंसेवकों को नए साल की पूर्व संध्या पर 500 लोगों के लिए भोजन पकाने में मदद की. रिपोर्ट के मुताबिक सिंह ने कहा कि हमारे पास एक दिन में 1,000 लोगों के लिए खाना पकाने की क्षमता है. हमारे पास चावल, आटा और दाल का भंडार है. हमारा मानना है कि यह अगले सप्ताह के लिए पर्याप्त होना चाहिए.

मालूम हो कि सितंबर में आग लगने के बाद से विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स में कम से कम 20 लोग मारे गए हैं और दर्जनों लापता हैं. आग ने अब तक 1,300 से अधिक घरों को नष्ट कर दिया है.

ये भी पढ़ें: ननकाना साहिब पर हमले के खिलाफ भारत में प्रदर्शन शुरू, जमात-ए-इस्लामी हिंद ने भी की निंदा

Related Posts