पाकिस्तान की हालत भिखारियों जैसी है, ये किसी का सगा नहीं: तारेक फतेह Exclusive

फतेह ने पाकिस्तान की आर्मी का हाल बताते हुए कहा कि वहां फौजियों को निहत्थे आम लोगों को मारने के एवज में मेडल मिलते हैं.

कश्मीर पर पाकिस्तान की बयानबाज़ी बंद होने का नाम नहीं ले रही. इस मुद्दे पर टीवी9 भारतवर्ष ने पाकिस्तानी मूल के लेखक तारिक फतेह से बात की. उन्होंने कश्मीर और पाकिस्तान के मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखी. पढ़िए उस बातचीत के अंश:

तारिक फतेह ने कहा कि अब तक पाकिस्तान की धमकियों से भारत दब जाता था कि ये बावले लोग क्या करेंगे. लेकिन जब भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सीधे कहा कि 370 और 35 ए खत्म हो रहा है. जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा पिछले 5 हजार साल से है. तब समझ में आया कि हिंदुस्तान में कोई नेता सख्त फैसला ले सकता है.

तारिक फतेह ने बताया कि 1965 के युद्ध के समय उनकी उम्र 15 साल की थी और पाकिस्तान में प्रोपेगैंडा फैलाया जाता था कि एक पाकिस्तानी 10 भारतीयों को खा जाएगा. इस बार भी पाकिस्तान को उम्मीद थी कि भारत का मुसलमान आर्टिकल 370 हटने पर पाकिस्तान के साथ खड़ा हो जाएगा. पता नहीं ये किस गलतफहमी में जी रहे हैं?

फतेह आगे बताते हैं कि पाकिस्तान में किसी को 370 के बारे में कुछ नहीं पता है. वहां के किसी डिप्लोमैट ने इसके बारे में नहीं पढ़ा है. पाकिस्तान अनपढ़ लोगों का देश है. फ़कीरों वाली हालत है पाकिस्तान की. कभी चीन के आगे भीख मांग रहे हैं, कभी सऊदी अरब और कभी अमेरिका के आगे. और ये किसी के लिए ईमानदार नहीं हैं. पैसे के अलावा ये मुल्क अक्ल, सोच ईमानदारी, हर मामले में दिवालिया है.

इमरान खान के उकसाने वाले ट्वीट पर जवाब देते हुए तारिक फतेह ने कहा कि ये इतने बेवकूफ हैं, इन्हें पता नहीं कि भारत में पाकिस्तान से ज्यादा मुसलमान हैं. इनको नहीं पता कि हिंदुस्तान के मुसलमान को वोट देने का हक है, जुलूस निकालने का हक है, जो अपनी गवर्नमेंट के खिलाफ हो सकता है, मस्जिद जा सकता है, हज पे जा सकता है, जो चाहे कर सकता है.

उसी जगह पाकिस्तान में न शिया रह सकते हैं, न अहमदी रह सकते हैं, आपको कोई अंदाजा नहीं है कि बलूचिस्तान में क्या बर्बरता हो रही है. क्या इनको ठेका दिया है किसी ने इस्लाम की बात करने का? पाकिस्तान सबसे ज्यादा करप्ट, बेइमान और चोर हुकूमत के अंडर में है जो मुल्क को लूट रहे हैं.

फतेह ने पाकिस्तान की आर्मी का हाल बताते हुए कहा कि वहां फौजियों को निहत्थे आम लोगों को मारने के एवज में मेडल मिलते हैं. इन्होंने 30 लाख बंगाली मुसलमान मार दिए हैं. पाकिस्तान के ऐसे ऐसे मिनिस्टर हैं जिनको बात करने तक की तमीज नहीं है. पाकिस्तान इस समय सबसे बेवकूफ लोगों के हाथों में है.

ये भी पढ़ें:

पीएम मोदी की आलोचना कर रहे थे पाकिस्तान के रेलमंत्री, लग गया करंट

कश्‍मीर पर पाकिस्‍तान का ड्रामा, सायरन बजवा कर नागरिकों से करवाएगा प्रदर्शन

इमरान से नहीं संभल रहा अपना मुल्‍क, PAK में बंदूक की नोंक पर सिख लड़की का धर्म परिवर्तन-निकाह