ब्रेग्जिट पर वोटिंग से पहले बड़ा झटका, ब्रिटिश PM बोरिस जॉनसन ने संसद में खोया बहुमत

कंजरवेटिव पार्टी के सांसद फिलिप ली दल-बदल करते हुए यूरोपीय संघ (ईयू) समर्थक लिबरल डेमोक्रेट में शामिल हो गए.

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को बड़ा राजनीतिक झटका लगा है. मंगलवार को होने वाले महत्वपूर्ण ब्रेग्जिट पर वोट से पहले एक सांसद के दल-बदल करने से बोरिस ने संसदीय बहुमत खो दिया.

लिबरल डेमोक्रेट्स ने दी जानकारी
कंजरवेटिव पार्टी के सांसद फिलिप ली दल-बदल करते हुए यूरोपीय संघ (ईयू) समर्थक लिबरल डेमोक्रेट में शामिल हो गए हैं. लिबरल डेमोक्रेट्स ने एक बयान में कहा कि ‘लिबरल डेमोक्रेट्स को यह घोषणा करते हुए खुशी महसूस हो रही है कि ब्रैकनेल सांसद फिलिप ली पार्टी में शामिल हो गए हैं.’

बोरिस जॉनसन ने हाल ही में ब्रेग्जिट की समयावधि तक संसद को निलंबित करने का प्रस्ताव रखा था. महारानी से इस प्रस्ताव को मंजूरी भी मिल गई थी. बोरिस ने संसद में कहा कि वह आम चुनाव नहीं चाहते हैं. ब्रेग्जिट के समर्थक बोरिस जॉनसन ने कहा कि ‘कोई ऐसा कारण नहीं है कि ब्रेग्जिट में देरी स्वीकार की जाए.’

मध्यावधि चुनाव की अटकलें हुईं तेज
बोरिस जॉनसन के बहुमत खोने से मध्यावधि चुनाव की अटकलें भी तेज हो गई हैं. मंगलवार को शुरू हुई संसद में जॉनसन ने कहा कि ब्रेग्जिट में 31 अक्टूबर से ज्यादा देर नहीं होगी. उन्होंने कहा कि ‘हम न ही पीछे हटने का प्रस्ताव स्वीकार करेंगे और न जनमत संग्रह को रद्द करेंगे.’

बता दें कि बोरिस जॉनसन ने 24 जुलाई को ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का पदभार संभाला था. टरीजा मे के बाद उन्हें यह जिम्मेदारी मिली थी. यूरोपाय संघ की सदस्यता पर हुए जनमत संग्रह में वह प्रमुख चेहरा बनकर उभरे थे. वो ब्रिटेन के विदेश मंत्री भी रह चुके हैं.

ये भी पढ़ें-

मेडिकल जांच के लिए डीके शिवकुमार को RML अस्पताल ले गई ED, डॉक्टर्स ने चढ़ाई ड्रिप

डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के बाद बिफरे कांग्रेस समर्थक, देखें तस्‍वीरें

‘रिजॉर्ट राजनीति’ के जनक कहे जाते हैं डीके शिवकुमार, ऐसे बने कांग्रेस के ‘किंगमेकर’