अगर चीन और हॉन्ग-कॉन्ग बीफ खाना बंद कर दें तो नहीं लगेगी अमेजन के जंगलों में आग!

क्लाइमेट चेंज पर बनी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्लोबल टेंपरेचर को 2 डिग्री बढ़ने से रोकने के लक्ष्य को हासिल करने में 20 प्रतिशत तक योगदान हम अपनी डाइट को बदलने मात्र से कर सकते हैं.

ब्राजील के अमेजन जंगलों में लगी आग अब अंतरराष्ट्रीय संकट बन गई है. कथित तौर पर मवेशियों के चरने के लिए जमीन को साफ करने के मकसद से चरवाहों और लकड़हारों द्वारा अमेजन वर्षावनों में लगाए जाने की आशंका जताई जा रही हैं. ब्राजिल के पॉप्युलिस्ट प्रो बिजनेस राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो का साथ भी इन लोगों को मिला हुआ है.

हालांकि बोल्सोनारो दावा कर रहे हैं कि ये भीषण आग एनजीओ द्वारा उन्हें बदनाम करने के उद्देश्य से लगाई गई है. इन दो कयासों के बीच ब्राजील का बीफ मार्केट एक ऐसा मुद्दा है जो चर्चा का विषय बना हुआ है. जहां बीफ ब्राजील के किसानों के लिए व्यापार का मसला है तो वहीं दुनिया इसे डर भरी नजरों से देख रही है. साथ ही दुनिया को 20 प्रतिशत ऑक्सीजन देने वाले जंगलों को बचाने के लिए कम बीफ खाने की अपील कर रही है.

अमेजन, अगर चीन और हॉन्ग-कॉन्ग बीफ खाना बंद कर दें तो नहीं लगेगी अमेजन के जंगलों में आग!

यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (USDA) के मुताबिक ब्राजील दुनिया का सबसे बड़ा बीफ निर्यातक है, जो कुल वैश्विक निर्यात का 20 प्रतिशत है. आने वाले वर्षों में इसके और बढ़ने की संभावना है. ब्राजील की 30 से ज्यादा मांस पैकिंग कंपनियों के संगठन ब्राजील बीफ एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन (अबिक) के मुताबिक पिछले साल देश ने 1.64 मिलियन टन बीफ की शिपिंग की है, जो कि ब्राजील के इतिहास में सबसे ज्यादा है.

ब्राजील के बीफ उद्योग में बढ़ोतरी का बड़ा कारण है एशिया की मजबूत मांग. जो कि ज्यादातर चीन और हॉन्ग-कॉन्ग से है. USDA के मुताबिक ब्राजील से साल 2018 में निर्यात होने वाले पूरे बीफ का 44 प्रतिशत सिर्फ इन दोनों देशों में ही गया.

एक और सौदा होने को है जो बढ़ा देगा बीफ की मांग

साऊथ अमेरिका के कुछ देशों और यूरोपीय संघ के बीच जून में एक व्यापार सौदा हुआ था, जिससे ब्राजील के बीफ-पैकिंग उद्योग के लिए और भी ज्यादा बाजार खुल सकते हैं. एग्रिमेंट होने के बाद, अबीक के प्रमुख एंटोनियो कैमार्डेली ने कहा कि ये एग्रिमेंट EU की तरह मौजूदा भागीदारों के साथ बिक्री को बढ़ावा देते हुए, इंडोनेशिया और थाईलैंड जैसे संभावित नए बाजारों तक पहुंच प्राप्त करने में ब्राजील की मदद कर सकता है.

उन्होंने कहा, “इस मैग्निट्यूड के सौदे का सीधा मतलब है अन्य देशों और व्यापार ब्लाकों को निमंत्रण कार्ड देना.” एक बार लागू होने के बाद, यह एग्रिमेंट यूरोपीय संघ में बीफ आयात पर 20 प्रतिशत तक की उगाही वसूलेगा. लेकिन, शुक्रवार को आयरलैंड ने कहा कि वह इस सौदे को अवरुद्ध करने के लिए तैयार है जब तक कि ब्राजील अमेजन पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं करता.

अमेजन, अगर चीन और हॉन्ग-कॉन्ग बीफ खाना बंद कर दें तो नहीं लगेगी अमेजन के जंगलों में आग!

ऑर्गनाइजेशन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट (OECD) के अनुसार, यह सौदा हो या न हो लेकिन फिर भी ब्राजील बीफ उद्योग को प्राकृतिक संसाधनों, घास की उपलब्धता और वैश्विक मांग के आधार पर विस्तार जारी रखने का अनुमान है. और इस वृद्धि की कीमत पर्यावरण को देनी होगी.

ब्राजील के अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र (INPE) ने इस सप्ताह कहा कि ब्राजील में आग की संख्या पिछले साल की तुलना में 80 प्रतिशत ज्यादा है. उन्होंने बताया कि ये आपदा अमेजन के आधे से ज्यादा क्षेत्र में है. अगर दुनिया के फेंफड़े कहलाए जाने वाले अमेजन को बचाने के लिए कम मीट खाना कोई ठोस वजह नहीं है तो बीफ द्वारा उत्सर्जित की जाने वाली ग्रीन हाउस गैस शायद एक और बड़ी वजह हो सकती है.

खानपान बदलने से भी टेंपरेचर को बढ़ने से रोक सकते हैं 

मालूम हो कि बीफ 41 प्रतिशत पशुधन ग्रीनहाउस गैस के उत्सर्जन के लिए भी जिम्मेदार है और यह वैश्विक उत्सर्जन का 14.5 प्रतिशत है. UN इंटरगवर्नमेंटल पैनल ऑन क्लाइमेट चेंज (IPCC) की रिपोर्ट में पिछले साल जारी की गई एक खतरनाक रिपोर्ट में कहा गया है कि ग्लोबल टेंपरेचर को 2 डिग्री बढ़ने से रोकने के लक्ष्य को हासिल करने में 20 प्रतिशत तक योगदान हम अपनी डाइट को बदलने मात्र से कर सकते हैं.

इन चेतावनीयों के बाद भी OECD और FAQ जैसी वेश्विक संस्थाओं ने दावा किया है कि बीफ की वैश्विक खपत अगले दशक में बढ़ने वाली है. एक संयुक्त रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि वैश्विक उत्पादन 2017 और 2027 के बीच मांग को पूरा करने के लिए 16 प्रतिशत तक बढ़ जाएगा. जिसमें बड़ा हाथ ब्राजील का होगा.

ये भी पढ़ें: जानिए, 41 ऑर्डिनेंस फैक्ट्रियों के 80 हजार से ज्यादा कर्मचारी क्यों हैं हड़ताल पर