हांगकांग को लेकर लाल हुआ चीन, दो सीनेटर सहित 11 अमेरिकियों पर लगाया प्रतिबंध

अमेरिका (US) ने पिछले हफ्ते हांगकांग (Hong kong) की नेता कैरी लैम सहित 11 अधिकारियों पर हांगकांग में "स्वतंत्रता और लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं" को दबाने का आरोप लगाया था. साथ ही अमेरिका में इनकी संपत्ति भी फ्रीज की जाएगी.
China imposes ban on 11 Americans, हांगकांग को लेकर लाल हुआ चीन, दो सीनेटर सहित 11 अमेरिकियों पर लगाया प्रतिबंध

चीन (China) ने हांगकांग (Hong Kong) के मुद्दे पर पलटवार करते हुए सोमवार को सीनेटर मार्को रुबियो (Marco Rubio) और टेड क्रूज (Ted Cruz) सहित 11 अमेरिकियों पर प्रतिबंध लगा दिया है.

अमेरिका ने कैरी लैम सहित 11 अधिकारियों पर लगाए आरोप

दरअसल चीन ने अमेरिका के उस कदम पर पलटवार किया, जिसमें वाशिंगटन ने पिछले हफ्ते हांगकांग की नेता कैरी लैम सहित 11 अधिकारियों पर हांगकांग में “स्वतंत्रता और लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं” को दबाने का आरोप लगाया था. साथ ही अमेरिका में इनकी संपत्ति को भी फ्रीज करने की घोषणा की थी. यह अमेरिकी की अब तक की सबसे कठिन कार्रवाई थी.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

इसके जवाब में बीजिंग ने कहा कि अमेरिका का यह कदम अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन है और यह चीन के आंतरिक मामलों में व्यापक रूप से हस्तक्षेप करता है.

हांगकांग के मुद्दे पर बुरा व्यवहार करने वालों पर प्रतिबंध

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने सोमवार को कहा, “चीन ने कुछ लोगों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है जो हांगकांग से संबंधित मुद्दों पर बुरा व्यवहार करते हैं.” मालूम हो कि इस लिस्ट में ह्यूमन राइट्स वॉच के निदेशक केनेथ रोथ और नेशनल एंडोमेंट फॉर डेमोक्रेसी के अध्यक्ष कार्ल गेर्शमैन का नाम है.

हालांकि झाओ लिजियान ने इन प्रतिबंधों की ज्यादा जानकारी नहीं दी है. अमेरिका के रिपब्लिकन सीनेटर रूबियो और क्रूज ने हांगकांग में पिछले साल हुए प्रदर्शनों के मुखर रूप से समर्थन किया था.

सुरक्षा कानून के तहत कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी

हांगकांग के नेताओं ने कोरोनोवायरस महामारी का हवाला देते हुए स्थानीय चुनाव स्थगित कर दिए हैं. अधिकारियों ने 6 लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी किए हैं और अन्य कार्यकर्ताओं पर कार्रवाई शुरू की है. वहीं सोमवार को हांगकांग के मीडिया मुगल जिमी लाइ, शहर के सबसे मुखर बीजिंग आलोचकों में से एक को सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तार किया गया था.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts