चीन ने दिखाए ऐसे हथियार दुनिया के उड़े होश, US तक मार करने वाली मिसाइल पर टिकी नजरें

चीन ने जिन मिसाइलों का प्रदर्शन किया, उनमें इंटरकॉन्टिनेंटल मिसाइलें डोंगफेंग-41 और डोंगफेंग-17 भी शामिल थीं, जो 15 हजार किलोमीटर दूरी तक मार कर सकती हैं. डीएफ-41 दुनिया की सबसे दूरी तक मार करने वाली मिसाइल मानी जाती है. चीन ने पहली बार इस मिसाल को परेड में दिखाया.

बीजिंग: कम्युनिस्ट शासन के 70 साल पूरे होने पर चीन ने मंगलवार को विशाल सैन्य परेड के साथ-साथ अपने घातक हथियारों, मिसाइलों का प्रदर्शन किया. मौका भले ही 70 साल के जश्न का हो लेकिन दुनिया के सामने शक्ति प्रदर्शन के तौर पर देखा जा रहा है. चीन ने जो शक्ति प्रदर्शन किया है उसने दुनिया को हैरानी में डाल दिया है.

चीन ने जिन मिसाइलों का प्रदर्शन किया, उनमें इंटरकॉन्टिनेंटल मिसाइलें डोंगफेंग-41 और डोंगफेंग-17 भी शामिल थीं, जो 15 हजार किलोमीटर दूरी तक मार कर सकती हैं. डीएफ-41 दुनिया की सबसे दूरी तक मार करने वाली मिसाइल मानी जाती है. चीन ने पहली बार इस मिसाल को परेड में दिखाया.

सैन्य परेड में चीन ने अपने आधुनिक और बहुत शक्तिशाली हथियारों का प्रदर्शन किया. इन हथियारों में फाइटर प्लेन, एयरक्राफ्ट कैरियर, सुपरसॉनिक मिसाइल और न्यूक्लियर क्षमता से लैक पनडुब्बियों का प्रदर्शन किया गया.

परमाणु और हाइपरसॉनिक मिसाइलों समेत अपने सबसे आधुनिक हथियारों का प्रदर्शन चीन ने मिलिटरी परेड में किया. इसमें DF-41 भी शामिल है. यह दुनिया की सबसे ताकतवर मिसाइलों में शामिल है जिसकी मारक क्षमता बहुत अधिक है.

जानकारों का कहना है कि यह मिसाइल कुछ ही मिनटों में चीन से यूएस तक पहुंच सकती है. इस मिसाइल को विश्व की सबसे लंबी दूरी तक मार करने में सक्षम मिसाइल माना जा रहा है, जिसकी मारक क्षमता 15,000 किमी. तक है. विश्लेषकों के मुताबिक इस मिसाइल पर एक साथ 10 वॉरहेड्स फिट किए जा सकते हैं जो एक साथ अलग-अलग टारगेट को ध्वस्त करने में सक्षम हैं.