ब्रिटेन ने हांगकांग के लोगों को नागरिकता देने का खोला रास्‍ता, बौखलाए चीन ने दी जवाबी कार्रवाई की चेतावनी

चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (Hong Kong National Security Law) के जवाब में ब्रिटेन ने हांगकांग के नागरिकों को यूके की नागरिकता देने का फैसला किया है. इसे लेकर चीन ने ब्रिटेन को 'जवाबी कार्रवाई' की चेतावनी दी है.
China warns britain, ब्रिटेन ने हांगकांग के लोगों को नागरिकता देने का खोला रास्‍ता, बौखलाए चीन ने दी जवाबी कार्रवाई की चेतावनी

चीन के राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के जवाब में ब्रिटेन ने हांगकांग (Hong Kong) के नागरिकों को यूके की नागरिकता देने का फैसला किया है, जिसके बाद से ही चीन (China) बौखला गया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चीन ने ब्रिटेन को ‘जवाबी कार्रवाई’ की चेतावनी दी है.

चीन ने चेतावनी भरे लहजे में कहा है कि यदि ब्रिटेन ने हांगकांग के निवासियों के लिए नागरिकता का रास्‍ता खोला तो वह भी “इसी तरह के उपायों” के साथ जवाबी कार्रवाई कर सकता है. गौरतलब है कि ब्रिटेन का प्रस्ताव एक नए सुरक्षा कानून के जवाब में आया है जिसे चीन ने इस सप्‍ताह, पूर्व ब्रिटिश क्षेत्र हांगकांग के लिए लागू किया था.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

1997 में चीन के हाथों में सौंपे जाने के पहले हांगकांग ब्रिटेन के अधिकार क्षेत्र में था. उसे इस गारंटी के साथ चीन को सौंपा गया था कि हांगकांग की न्यायिक और विधायी स्वायत्तता को 50 वर्षों तक संरक्षित रखा जाएगा. चीन ने कहा था कि हांगकांग को अगले 50 सालों तक विदेश और रक्षा मामलों को छोड़कर सभी तरह की आजादी हासिल होगी. बाद में चीन ने एक समझौते के तहत इसे विशेष प्रशासनिक क्षेत्र बना दिया था.

पीएम जॉनसन ने साधा चीन पर निशाना

जॉनसन ने कहा कि नए सुरक्षा कानून के जरिए हॉन्ग कॉन्ग की स्वतंत्रता का उल्लंघन किया जा रहा है. इससे प्रभावित लोगों को हम ब्रिटिश नेशनल ओवरसीज स्टेटस के जरिए ब्रिटिश नागरिकता देंगे. बता दें कि हॉन्ग कॉन्ग के लगभग 3 लाख 50 हजार लोगों को पहले ही ब्रिटिश नागरिकता प्राप्त है. जबकि, 26 लाख अन्य लोग भी इस कानून के तहत नागरिकता पाने के हकदार हैं.

क्या है नया कानून

हांगकांग में चीन द्वारा लागू किए गए विवादित राष्ट्रीय सुरक्षा कानून का मुख्य उद्देश्य लोकतंत्र समर्थकों पर लगाम लगाना और उनके खिलाफ कार्रवाई करना है. कानून के अनुच्छेद 38 के तहत यह उन अपराधों पर लागू होगा जो क्षेत्र के बाहर से हांगकांग विशेष प्रशासनिक क्षेत्र में एक ऐसे व्यक्ति द्वारा किए गए हैं जो क्षेत्र का स्थायी निवासी नहीं है. यह नया कानून बीजिंग को हांगकांग में जांच, मुकदमा चलाने और दंडित करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए और शक्तियां देता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts