चीन की ‘Bat Woman’ ने दी चेतावनी, कहा- Coronavirus एक शुरुआत, फिर फैल सकते हैं ऐसे वायरस

वायरोलॉजिस्‍ट शी झेंगली (Shi Zhengli) ने एक इंटरव्यू में कहा कि Coronavirus जैसे खतरनाक वायरसों की रिसर्च दुनिया के वैज्ञानिकों को करनी चाहिए जो जंगली जानवरों द्वारा फैलाए गए हैं. अगर इनका अध्ययन नहीं करेंगे तो आगे चल कर फिर कोई दूसरी महामारी फैलेगी.
Chinese virologist Shi Zhengli, चीन की ‘Bat Woman’ ने दी चेतावनी, कहा- Coronavirus एक शुरुआत, फिर फैल सकते हैं ऐसे वायरस

पूरी दुनिया में ‘बैट वुमन’ (Bat Woman) के नाम मशहूर चीन की एक खास वायरोलॉजिस्‍ट शी झेंगली (Shi Zhengli) ने सरकारी टीवी पर Coronavirus को लेकर इंटरव्यू दिया है. उन्होंने नए वायरस के फैलने की ओर आगाह किया और चेतावनी देते हुए कहा है कि कोरोनावायरस (COVID-19) महज एक शुरुआत है.

उन्होंने CGTN टेलीविजन को बताया कि अगर हम इंसानों को आगे किसी भी संक्रामक रोग के प्रकोप से बचाना चाहते हैं, तो हमें इसके लिए पहले से ही जंगली जानवरों द्वारा फैलाए गए अज्ञात वायरस के बारे में जानना चाहिए और इनका अध्ययन नहीं करेंगे, तो आगे चल कर फिर कोई दूसरी महामारी फैलेगी.

इसे एक बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या करार देते हुए उन्‍होंने दुनियाभर के वैज्ञानिकों और सरकारों को एकजुट होकर इससे मुकाबला करने की अपील की और यह भी कहा कि इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि वायरस के शोध के लिए वैज्ञानिकों और सरकारों दोनों को पारदर्शी और सहयोगी होने की जरूरत है.

राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन पर लगाए थे आरोप 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत कई लोग महामारी के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराते हैं. ट्रंप दावा करते हैं कि कोरोनावायरस वुहान लैब से आया है. इस वुहान इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की डायरेक्टर वांग यांयी ने CGTN के साथ इंटरव्यू में इन आरोपों को झूठा करार दिया था.

वांग यांयी ने कहा था, “लैब में चमगादड़ों से कुछ कोरोना वायरस आइसोलेट किए गए थे. हमारे पास तीन जिंदा स्ट्रेन हैं. लेकिन उन सभी की SARS-CoV-2 से समानता सिर्फ 79.8 फीसदी ही है.” SARS-CoV-2 वायरस से ही COVID-19 होता है.

Related Posts