Lebanon Blast पर बोले ट्रंप- एक भयानक हमले जैसा विस्फोट, इन देशों ने बढ़ाए मदद के हाथ

इस भयंकर धमाके का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बेरूत पोर्ट (Beirut Port) से 234 किलोमीटर दूर साइप्रस (Cyprus) तक ब्लास्ट (Lebanon Blast) की आवाज सुनी गई थी.
Donald Trump on Lebanon Blast Seems like attack, Lebanon Blast पर बोले ट्रंप- एक भयानक हमले जैसा विस्फोट, इन देशों ने बढ़ाए मदद के हाथ
लेबनान ब्लास्ट

लेबनान (Lebanon) की राजधानी बेरूत में भीषण धमाके (Beirut Blast) में अब तक अब तक 73 लोगों की मौत हो गई, जबिक घायलों की संख्या 3700 है. इस ब्लास्ट पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का कहना है कि बेरूत धमाका ‘एक भयानक हमले की तरह लग रहा है.’

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Afp न्यूज एजेंसी के मुताबिक, लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दियाब ने कहा कि पोर्ट में 2,750 टन अमोनियम नाइट्रेट का विस्फोट हुआ है. वहीं उन्होंने अपने मित्र देशों से मदद की गुहार भी लगाई है.

ट्रंप बोले- एक प्रकार का बम धमाका

इधर राष्ट्रपति ट्रंप ने लेबनान के लोगों के प्रति सहानुभूति व्यक्त की और समर्थन देना की बात कही. उन्होंने कहा, “सैन्य विशेषज्ञों ने उन्हें बेरूत विस्फोट को ‘किसी प्रकार का बम धमाका’ बताया है.”

“फ्रांस लेबनान के साथ खड़ा है”

वहीं इसके अलावा फ्रांस ने भी लेबनान को मदद का प्रस्ताव दिया है. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रॉन ने ट्वीट कर कहा, “लेबनान के लोगों के प्रति अपनी एकजुटता व्यक्त करता हूं. इस विस्फोट ने कई लोगों की जान ले ली और काफी लोग घायल हो गई है. फ्रांस लेबनान के साथ खड़ा है.”

“ब्रिटेन किसी भी तरह की सहायता के लिए तैयार”

इसी कड़ी में ब्रिटेन ने लेबनान की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाए हैं. ब्रिटेन प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा, “आज रात बेरुत से आईं तस्वीरें और वीडियो चौंकाने वाले हैं. मेरी प्रार्थना इस भयानक घटना में हताहत हुए लोगों के साथ है. ब्रिटेन किसी भी तरह से सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है.”

इजरायल ने भी बढ़ाए मदद के हाथ

इजरायल राष्ट्रपति बेंजामिन नेतन्याहू ने इजरायल की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रमुख को मध्य पूर्व शांति प्रक्रिया के लिए संयुक्त राष्ट्र के समन्वयक के साथ लेबनान को संभावित सहायता पर चर्चा करने का निर्देश दिया.

“स्टे स्ट्रांग लेबनान”

ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने ट्वीट कर कहा- “हमारे विचार और प्रार्थना लेबनान के महान लोगों के साथ हैं. हमेशा की तरह, ईरान किसी भी तरह से आवश्यक सहायता प्रदान करने के लिए पूरी तरह से तैयार है. स्टे स्ट्रांग लेबनान!”

ऑस्ट्रेलिया दिया मदद का प्रस्ताव

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने ट्वीट कर कहा, “एक बड़े विस्फोट के बाद बेरूत की भयानक तस्वीर सामने आई है. इस त्रासदी में हताहत होने वाले लोगों और हमारे ऑस्ट्रेलियाई लेबनानी समुदाय के लोगों की हालत देख दिल बैठ जाता है. ऑस्ट्रेलिया सहायता प्रदान करने के लिए तैयार है.”

UN के महासचिव ने वयक्त की संवेदना

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने लेबनान की राजधानी बेरूत में हुए भीषण विस्फोटों के बाद पीड़ित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है, जिसमें 70 से अधिक लोग मारे गए.

234 किलोमीटर दूर तक सुनी गई धमाके की आवाज

इस भयंकर धमाके का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बेरूत पोर्ट से 234 किलोमीटर दूर साइप्रस तक ब्लास्ट की आवाज सुनी गई थी. वहीं जॉर्डन सीस्मोलॉजिकल ऑब्जर्वेटरी के अनुसार, यह ब्लास्ट किसी 4.5 तीव्रता वाले भूकंप के बराबर था.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts