ट्रंप ने अपने ओपोनेंट जो बिडेन पर बोला हमला, कहा- वो लेफ्ट के Helpless Puppet

3 नवंबर को अमेरिका में राष्ट्रपति (Presidential Election in US) चुनाव होने हैं. डेमोक्रेटिक पार्टी (Democratic Party) ने 77 वर्षीय जो बिडेन (Joe Biden) को 74 साल के डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के सामने राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया है.
joe biden is helpless puppet, ट्रंप ने अपने ओपोनेंट जो बिडेन पर बोला हमला, कहा- वो लेफ्ट के Helpless Puppet

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने अपने री-इलेक्शन कैंपेन (Re-Election Campaign) की शुरुआत ओकलाहोमा से कर दी है. यहां ट्रंप ने पूर्व उप-राष्ट्रपति रहे जो बिडेन (Joe Biden) पर जमकर हमला बोला, जो कि उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हैं. बिडेन पर निशाना साधते हुए रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि जो बिडेन वाम खेमा (Radical Left) की असहाय कठपुतली (Helpless Puppet) हैं.

बिडेन को कट्टरपंथी करते हैं कंट्रोल

3 नवंबर को अमेरिका में राष्ट्रपति (Presidential Election in US) चुनाव होने हैं. डेमोक्रेटिक पार्टी ने 77 वर्षीय जो बिडेन को 74 साल के डोनाल्ड ट्रंप के सामने राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर खड़ा किया है. हाल ही में हुए ओपीनियन पोल के मुताबिक, ट्रंप, बिडेन से एवरेज 8 प्रतिशक अंक पीछे चल रहे हैं.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

शनिवार को ट्रंप ने ओकलाहोमा की तुलसा सिटी के इंडोर स्टेडियम में हजारों की संख्या में आए अपने समर्थकों को संबोधित किया. इस संबोधन के दौरान ट्रंप ने कहा, “बिडेन कट्टरपंथी वाम की एक असहाय कठपुतली हैं. मुझे नहीं लगता कि उन्हें अपने बारे में इससे ज्यादा कुछ पता है. वो कट्टरपंथी वामपंथी नहीं हैं, लेकिन उन्हें कट्टरपंथी वाम द्वारा नियंत्रित किया जा रहा है.”

दुनिया भर के साथ-साथ अमेरिका को भी अपनी जद में ले चुकी कोरोनावायरस महामारी के बीच डोनाल्ड ट्रंप की यह पहली रैली थी. रैली के दौरान ट्रंप ने अफ्रीकन-अमेरिकन नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की पुलिस बर्बरता में हुई मौत के बाद देश में हुए प्रदर्शन को लेकर भी बिडेन पर हमला बोला.

ट्रंप का बिडेन के कैंपेन से जुड़े लोगों पर आरोप

ट्रंप ने आरोप लगाया कि बिडेन के कैंपेन से जुड़े लोगों ने मिनियापोलिस में अराजकता फैलाने वाले दंगाइयों, लुटेरों और आगजनी करने वालों को बहुत सारा पैसा दिया. अमेरिकी राष्ट्रपति ने आगे कहा, “वामपंथी हमें रोकने के लिए हर रोज हर दिन हिंसा, उत्पात और लूटपाट समेत सबकुछ करने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि हम उनकी धमकियों से न तो डरेंगे और न ही झुकेंगे. उन्हें देश को नष्ट नहीं करने देंगे.”

100 से अधिक मिनटों तक चलने वाले अपने भाषण में ट्रंप ने फर्जी खबरें, न्यायाधीशों की नियुक्ति, पुलिस का समर्थन और प्रदर्शनकारियों की निंदा जैसे अपने पसंदीदा विषयों पर बहुत सारी बातें कीं. हालांकि इस रैली को लेकर ट्रंप पर निशाना भी साधा गया. कहा गया कि ऐसे समय में जब देश कोरोनावायरस से जूझ रहा है, वहां हजारों की संख्या में लोगों की उपस्थिति उनके स्वास्थ्य को खतरे में डालने वाला है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts