FB, Twitter-Google की PAK को धमकी, नए डिजिटल कानून में नहीं किया बदलाव तो कर देंगे सर्विस बंद

अगर एएसआई पाकिस्तान में अपनी सेवाएं देना बंद कर देता है, तो इससे देश के करीब 7 करोड़ इंटरनेट यूजर्स को नुकसान पहुंचेगा.
social media oppose pak digital law, FB, Twitter-Google की PAK को धमकी, नए डिजिटल कानून में नहीं किया बदलाव तो कर देंगे सर्विस बंद

डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म्स फेसबुक, ट्विटर और गूगल ने पाकिस्तान में अपनी सर्विस को सस्पेंड करने की धमकी इमरान खान सरकार को दी है. डिजिटल प्लेटफॉर्म्स ने यह धमकी प्रधानमंत्री इमरान खान की सरकार द्वारा देश में नए सोशल मीडिया नियमों को मंजूरी दिए जाने के बाद दी है.

एशिया इंटरनेट कोएलिशन (एआईसी) नामक एक समूह के माध्यम से, इन डिजिटल प्लेटफॉर्म्स ने पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को एक चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में एआईसी ने इमरान सरकार को सख्त तौर पर कहा है कि अगर वो अपने डिजिटल सेंसरशिप कानून में बदलाव नहीं करते हैं तो देश में वो अपनी सेवाएं बंद कर देंगे.

एआईसी का कहना है कि नए नियमों के कारण पाकिस्तान में यूजर्स और बिजनेस के लिए सर्विस देना काफी मुश्किल है. ग्रुप का यह भी कहना है कि जब देश ने इस कानून को बनाया तो इसके बारे में विशेषज्ञों से नहीं पूछा गया था.

एआईसी ने अपनी चिट्ठी ने लिखा, “हम सोशल मीडिया के नियमन के खिलाफ नहीं हैं, और हम स्वीकार करते हैं कि पाकिस्तान में पहले से ही एक लेजिस्लेटिव फ्रेमवर्क है जो कि ऑनलाइन प्रोवाइड की जाने वाले कंटेंट को कंट्रोल करता है. हालांकि ये नियम सोशल मीडिया यूजर्स की अभिव्यक्ति की आजादी और गोपनीयता का उल्लंघन है.”

अगर एएसआई पाकिस्तान में अपनी सेवाएं देना बंद कर देता है, तो इससे देश के करीब 7 करोड़ इंटरनेट यूजर्स को नुकसान पहुंचेगा.

क्या है डिजिटल सेंसरशिप कानून?

इस नियम में कई प्रावधान ऐसे हैं, जिनमें कोई भी शख्स किसी भी कंटेंट पर अपनी आपत्ति दर्ज करा सकता है. इसके बाद कंपनियों को ऐसे कंटेंट को 24 घंटे के अंदर हटाना होगा. हालांकि अगर कोई इमरजेंसी होती है तो 6 घंटे के अंदर ऐसे कंटेंट को हटाना पड़ेगा.

नियम में यह बात भी कही गई है कि इन डिजिटल प्लेटफॉर्म्स को कंटेंट, अकाउंट, सब्सक्राइबर जैसी चीजों की जानकारी खुफिया एजेंसी को देनी होगी. अगर कंपनी इन नियमों को नहीं मानती है या फिर इनका उल्लंघन करती है तो उसे ब्लॉक करने की भी बात इसमें कही गई है. अगर कंपनियां नियमों का उल्लंघन करती है तो उन्हें 50 करोड़ पाकिस्तानी रुपए जुर्माना देना होगा.

 

ये भी पढ़ें-    मलेशिया के सम्राट का ऐलान, मुहियुद्दीन यासिन होंगे देश के नए प्रधानमंत्री

पाकिस्तान के सिंध में ट्रेन से टकराई बस, 30 लोगों की मौत और कई घायल

Related Posts