19 साल पहले नाम-धर्म-राष्ट्रीयता बदल पाकिस्तानी शख्स से की शादी, अब चुकानी पड़ी कीमत

महिला ने 31 जुलाई को अपना आईडी कार्ड रिन्यू कराने के लिए अर्जी डाली थी लेकिन अभी तक उन्हें उनका नया आईडी कार्ड नहीं मिला है.

एक पाकिस्तानी शख्स से शादी करने वाली एक पूर्व भारतीय महिला को कई सालों बाद अब पहचान के संकट से जूझना पड़ रहा है. दुबई के शारजाह में रहने वाली इस महिला ने 19 साल पहले पाकिस्तानी मूल के एक शख्स से शादी की थी. इसके लिए उन्होंने अपना नाम, मजहब और नागरिकता बदल लिया था.

इसके चलते वह ‘आइडेंटिटी क्राइसिस’ झेल रही हैं. उन्हें अपनी पाकिस्तानी नागरिकता को साबित करने वाले आईडी कार्ड को रिन्यू कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

अब तक नहीं मिला नया आईडी कार्ड
इस महिला का नाम काजल रशीद खान है. गल्फ न्यूज की एक रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने 31 जुलाई को अपना आईडी कार्ड रिन्यू कराने के लिए अर्जी डाली थी लेकिन अभी तक उन्हें उनका नया आईडी कार्ड नहीं मिला है.

पाकिस्तान में संबंधित अधिकारियों का कहना है कि उनके कागजों की जांच चल रही है. इस रिपोर्ट में ये भी बताया गया कि आमतौर पर आईडी कार्ड रिन्यू होने में 10 दिन का समय लगता है.

मीडिया से बात करते हुए काजल के पति मुहम्मद रशीद खान ने बताया कि वह लगातार 3 महीने से NADRA (नेशनल डेटाबेस एंड रेगुलेशन अथॉरिटी) के संपर्क में हैं. उन्होंने अपना गुस्सा जताते हुए कहा कि उनकी पत्नी काजल के पास मान्य पाकिस्तानी पासपोर्ट और नागरिकता सर्टिफिकेट होने के बाद भी उनकी पत्नी की अर्जी को होल्ड पर रखा हुआ है.

बैंक अकॉउंट्स भी हो चुके हैं फ्रीज
काजल के कराची में खुले हुए बैंक अकॉउंट्स भी फ्रीज हो चुके हैं. काजल का आईडी 2023 तक मान्य होने के बावजूद उन्हें नए स्मार्ट आईडी के लिए अर्जी डालनी पड़ी. यही कारण है कि वह अपने बैंक अकॉउंटस का उपयोग नहीं कर पा रहीं थीं.

बता दें कि 60 साल के रशीद पेशे से आर्किटेक्ट हैं. वह 1989 में कराची से दुबई आए थे और वहां उन्होंने एक सुपरमार्केट भी खोला था. उनकी 4 पत्नियां और 10 बच्चे हैं. उनकी 2 पत्नियां भारतीय हैं और 2 पाकिस्तानी हैं. रशीद और उनकी पत्नी काजल को एक बेटा और एक बेटी है.

ये भी पढ़ें-

बांग्लादेश में दो पैसेंजर ट्रेनों की हुई जबरदस्त टक्कर, 16 की मौत और 58 घायल

सऊदी अरब: स्‍टेज पर चढ़ तीन कलाकारों को चाकुओं से गोदा, सनकी हमलावर गिरफ्तार

बढ़ते दाम ने बिगाड़ा स्वाद…पाकिस्तानियों की थाली से गायब हुआ टमाटर