समाचार पढ़ाने के बूते अरबों-खरबों कमा रहा गूगल लेकिन न्यूज़ एजेंसियां तंगहाल!

मीडिया हाउस बदहाल हैं जबकि उनकी बनाई खबरों पर फेसबुक से लेकर गूगल मालामाल है. एक रिपोर्ट ने सबकों चौंका दिया है.

सब जानते हैं कि गूगल मालदार कंपनी है लेकिन अब एक आंकड़ा सामने आया है जिसने सबको चौंका दिया है. मालूम पड़ा है कि सिर्फ समाचार कारोबार से ही 2018 में गूगल ने 4.7 अरब डॉलर का कारोबार किया था.

पिछले साल पत्रकारों के काम से गूगल ने जो कमाई की वो आंखें खोल देनेवाली है. गूगल न्यूज़ या सर्च से उसने ये पैसा कमाया. अब जो बड़ा सवाल उठ खड़ा हुआ है वो ये है कि क्या ये मीडिया घरानों की ऑनलाइन विज्ञापन से होने वाली कमाई में भारी कटौती नहीं है? मीडिया हाउस की आय के इस प्रमुख स्रोत में भारी कटौती के चलते कई मीडिया घरानों का परिचालन सीमित हुआ या वो बंद तक हो गए.

न्यूज मीडिया अलायंस (एनएमए) की सोमवार को जारी एक रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आयी है. एनएमए अमेरिका के 2,000 से भी ज्यादा अखबारों का प्रतिनिधित्व करने वाली संस्था है. न्यूयॉर्क टाइम्स ने एनएमए के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी डेविड शेवर्न के हवाले से कहा कि जिन पत्रकारों ने यह कंटेट (लेख एवं वीडियो) तैयार किया उन्हें इस 4.7 अरब डॉलर का कुछ हिस्सा मिलना चाहिए.

google, समाचार पढ़ाने के बूते अरबों-खरबों कमा रहा गूगल लेकिन न्यूज़ एजेंसियां तंगहाल!
फेसबुक की भारी कमाई समाचारों से ही होती है

रिपोर्ट में कहा गया है कि गूगल ने अपने सर्च और गूगल न्यूज के माध्यम से 2018 में अखबारों और प्रकाशकों के काम से यह कमाई की है. एनएमए ने बताया है कि इस अनुमान में गूगल की उस आय का मूल्य नहीं जोड़ा गया है जो उसे किसी उपभोक्ता के किसी एक लेख को पसंद करने या क्लिक करने से हर बार जुटाए जाने वाले निजी जानकारी से होती है.

जानकारी के मुताबिक गूगल पर ट्रेंडिंग करनेवाले 40% क्लिक समाचारों के लिए ही होते हैं. गूगल इसके लिए कोई पैसा नहीं चुकाता जबकि गूगल समाचार निर्माताओं की हेडलाइंस का इस्तेमाल करता है.    गूगल की पेरेंट कंपनी एल्फाबेट और फेसबुक न्यूज़ पब्लिकेशन्स के सबसे बड़े डिस्ट्रीब्यूटर हैं.