गुलालाई इस्माइल, जिसने दुनिया को सुनाई PAK में महिलाओं पर हो रही बर्बरता की दास्तां

इस्माइल ने कहा कि मेरी पाकिस्तान से निकलने की कहानी कई लोगों के जीवन को खतरे में डाल सकती है.
Gulalai Ismail, गुलालाई इस्माइल, जिसने दुनिया को सुनाई PAK में महिलाओं पर हो रही बर्बरता की दास्तां

गुलालाई इस्माइल, ये नाम आजकल मीडिया की सुर्खियों में है. इस्माइल को लेकर तरह-तरह की बातें की जा रही हैं. गुलालाई इस्माइल पाकिस्तान की मानवाधिकार कार्यकर्ता हैं. इस्माइल इन दिनों अमेरिका में हैं. वो पाकिस्तान से भागकर अमेरिका पहुंची हैं. इस्माइल ने अमेरिका से राजनीतिक शरण मांगी है. अमेरिका की ओर से इस पर अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

इस्माइल पर लगा देशद्रोह का आरोप
इस्माइल ने पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा यौन शोषण की घटनाओं को उजागर करने की कोशिश की थी. देश की महिलाओं पर होने वाले अत्याचारों के खिलाफ उन्होंने की विरोध-प्रदर्शन किए थे. पाकिस्तान ने इस्माइल पर देशद्रोह का आरोप लगाया है.

महिला कार्यकर्ताओं के एक समूह ने इस्माइल को लेकर पाक प्रधानमंत्री इमरान खान को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने गुलालाई इस्माइल की सुरक्षा सुनिश्चित करने की अपील की है. उन्होंने इस्माइल के ऊपर लगे देशद्रोह के मामले को गलत बताया है.

वह पिछले महीने पाकिस्तान से निकलने में कामयाब रहीं और अब अपनी बहन के साथ अमेरिका के ब्रुकलिन में रह रही हैं. इस्माइल ने कहा कि ‘मैंने किसी भी हवाई अड्डे से बाहर उड़ान नहीं भरी. मैं इससे ज्यादा कुछ नहीं कह सकती, क्योंकि मेरी पाकिस्तान से निकलने की कहानी कई लोगों के जीवन को खतरे में डाल सकती है.’

PAK सेना की जबरदस्ती के खिलाफ उठाई आवाज
इस्माइल ने कहा कि उन्हें केवल इसलिए निशाना बनाया गया है क्योंकि उन्होंने पाकिस्तानी सेना की जबरदस्ती के खिलाफ आवाज उठाई है. वहीं, न्यूयॉर्क में इस्माइल ने कुछ प्रमुख मानवाधिकार रक्षकों और कांग्रेस नेताओं के कर्मचारियों से मिलना शुरू कर दिया है.

गुलालाई के पाकिस्तान से भागकर अमेरिका जाने की खबर ऐसे समय पर सामने आई है जब पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में होने वाले कथित मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर अतंरराष्ट्रीय समुदाय का साथ पाने की भरपूर कोशिश कर रहा है लेकिन उसे हर जगह से निराशा ही मिली है.

ये भी पढ़ें-

पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता भागकर पहुंची अमेरिका, मांगी राजनीतिक शरण

कॉर्पोरेट टैक्स घटाने पर राहुल गांधी का सरकार पर तंज, कहा- आर्थिक संकट छिप नहीं सकता

सुप्रीम कोर्ट से इजाजत मिलने के बाद श्रीनगर पहुंचे गुलाम नबी आजाद

Related Posts