लाहौर धमाके में बच गया हाफिज सईद का बेटा, मीडिया से बोली इमरान सरकार – खबर मत छापो

जब धमाका हुआ तो तलहा मस्जिद में अपनी तकरीर करने का इंतजार कर रहा था. घायल तलहा का जिन्‍ना अस्‍पताल में इलाज हुआ.

लश्‍कर-ए-तैयबा सरगना हाफिज सईद का बेटा तलहा सईद लाहौर बम धमाकों में बाल-बाल बच गया. शनिवार शाम मोहम्‍मद अली रोड की एक मस्जिद को निशाना बनाया गया था. फर्स्‍टपोस्‍ट की रिपोर्ट के अनुसार, जांच में यह सामने आया है कि तलहा उसी मस्जिद में एक तकरीर करने जा रहा था.

पाकिस्‍तान ने शुरू में इसे गैस सिलेंडर धमाका बताया था. पंजाब पुलिस की जांच में अब सामने आ रहा है कि एक एयरकंडीशनर रिपेयर स्टोर में धमाका किया गया. रिपोर्ट के अनुसार, जब धमाका हुआ तो तलहा अपनी बारी का इंतजार कर रहा था. धमाके से वह घायल हो गया. उसका जिन्‍ना हॉस्पिटल में इलाज हुआ. इस धमाके में 22 साल का एक AC मैकेनिक हाफिज महमूद मारा गया. तलहा के अलावा, छह और लश्‍कर समर्थक इस धमाके में मारे गए.

लोकल मीडिया को हिदायत दी गई थी कि पुलिस की बात से इतर धमाकों की ख़बरें ना छापें. पंजाब गवर्नर मोहम्‍मद सरवर के दौरे को भी रिपोर्ट ना करने को भी मीडिया से कहा गया.

लाहौर की मस्जिद के पास यह धमाका आतंकी फंडिंग से जुड़े एक मामले में हाफिज सईद की पेशी के कुछ घंटों बाद हुआ. मामले की सुनवाई 11 दिसंबर तक टाल दी गई है.

ये भी पढ़ें

कबूतरों के ‘भारत प्रेम’ से बेचैन हुए पाकिस्तानी, लग रही लाखों रुपये की चपत