भारत की तोप स्‍ट्राइक से घबराया पाकिस्‍तान, अमेरिका से बोला- कुछ भी करके भारत को रोको

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने एलओसी पर भीषण संग्राम के बाद अमेरिका से आग्रह किया है कि वह भारत को रोके.

इस्‍लामाबाद: पाकिस्तानी सेना ने शनिवार को आतंकियों की घुसपैठ के इरादे से फायरिंग करना शुरू कर दिया था, लेकिन उसे अंदाजा नहीं था भारत इस गोलीबारी का जवाब गोलाबारी से देगा.

भारतीय सेना ने तोपों का मुंह खोला तो एलओसी पार कोहराम मच गया. भारतीय सेना की तोप स्‍ट्राइक में 6 से 10 पाकिस्‍तानी सैनिक मारे गए, जबकि इससे ज्‍यादा आतंकी ढेर हो गए.

चार साल में भारत की इस तीसरी स्‍ट्राइक से पाकिस्‍तान इतनी बुरी बौखलाया कि वह सीधा अमेरिका के पास पहुंच गया.

आतंकवाद के खिलाफ भारतीय सेना के एक और जोरदार प्रहार के बाद पाकिस्तान ने अमेरिका से भारत को रोकने की गुहार लगाई है. पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने एलओसी पर भीषण झड़पों के बाद अमेरिका से आग्रह किया है कि वह भारत को दक्षिण एशियाई क्षेत्र को एक खतरनाक युद्ध में झोंकने से रोके.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि पाकिस्तान ने अमेरिका से कहा कि इससे पहले की बहुत देर हो जाए, वह हालात को संभालने के लिए हस्तक्षेप करे.

प्रधानमंत्री इमरान खान के सहयोगी ने कहा, “भारत, पाकिस्तान को उकसाने की हर संभव कोशिश कर रहा है. हम शांति चाहते हैं लेकिन हम झुकेंगे नहीं.” उन्होंने कहा कि क्षेत्र में तनाव की स्थिति से अमेरिका भी चिंतित है.

भारत ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों के कई लॉन्च पैड को रविवार को ध्वस्त कर दिया. इस पर पाकिस्तान ने सुरक्षा परिषद के पांच वीटो अधिकार प्राप्त देशों से आग्रह किया कि वे भारत से इन लॉन्च पैड के बारे में जानकारी मांगें. पाकिस्तान ने यह भी कहा था कि वह ‘सच्चाई’ दिखाने के लिए इन देशों के राजनयिकों को घटनास्थल का दौरा करा सकता है.

2016 में उरी आतंकी हमले के बाद सर्जिकल स्ट्राइक, फरवरी 2019 में पुलवामा अटैक के बाद एयर स्ट्राइक और अब तोपों से हमला बोल भारत ने तीसरी स्ट्राइक को अंजाम दिया है.