दुबई में कुरान टीचर से करवाया जा रहा था क्लीनर का काम, बचकर आया तो सुषमा स्वराज को कहा शुक्रिया

कुरान टीचर से सऊदी अरब में क्लीनर का काम करवाया जा रहा था. वहां से लौटने के बाद उसने सुषमा स्वराज को शुक्रिया कहा है.

नई दिल्ली : हैदराबाद के निवासी हाफ़िज़ मोहम्मद बहाउद्दीन ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और भारतीय दूतावास के अधिकारियों को उन्हें सऊदी अरब से छुड़ाने और शुक्रवार को सुरक्षित भारत वापस लाने के लिए धन्यवाद कहा. हाफ़िज़ मोहम्मद बहाउद्दीन ने अपनी पूरी कहानी सुनाते हुए बताया, ‘मैं हैदराबाद में एक कुरान शिक्षक के रूप में काम करता था जब एक एजेंट ने मुझे सऊदी अरब के अल बहा में एक मस्जिद में नौकरी की पेशकश की थी. मैंने उसे 95,000 रुपये का भुगतान किया.

एजेंट ने मुझे एक दूरस्थ स्थान पर भेजा और मुझे एक क्लीनर के रूप में काम दिया. मैं बीमार था लेकिन मुझे अस्पताल ले जाने से मना कर दिया. भारतीय दूतावास के अधिकारियों ने मुझे बचाया और मुझे हैदराबाद के लिए टिकट दिया. मैं सुषमा स्वराज जी और भारतीय दूतावास को धन्यवाद देना चाहता हूं.’ सुषमा स्वराज ने 26 मई, 2014 को विदेश मंत्री का पद संभालने के बाद मानव तस्करी के पीड़ितों को छुड़ाने और उन्हें सुरक्षित भारत वापस लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

यह भी पढ़ें, थप्पड़, अंडा तो कभी स्याही.. 13वीं बार केजरीवाल हमले के शिकार, जानिए कब-कब बने टारगेट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *