Covid-19: ऑनलाइन क्लासेज वाले विदेशी स्टूडेंट्स को वापस भेजेगा अमेरिका, भारत के लिए भी झटका

अमेरिका में कई भारतीय छात्र (Indian Students in America) भी स्टूडेंट वीजा लेकर पढ़ाई कर रहे हैं. कोरोना के कारण अमेरिका की कई बड़ी यूनिवर्सिटीज ने पहले ही ऑनलाइन क्लासेज शुरू कर दी हैं.
foreign students must leave, Covid-19: ऑनलाइन क्लासेज वाले विदेशी स्टूडेंट्स को वापस भेजेगा अमेरिका, भारत के लिए भी झटका

संयुक्त राज्य अमेरिका ने सोमवार को कहा कि अगर कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण विदेशी छात्रों की क्लासेज ऑनलाइन हो जाती हैं तो उन्हें देश में रहने की अनुमति नहीं दी जाएगी. अगर ऑनलाइन क्लासेज होती हैं तो विदेशी छात्रों को हर सेमेस्टर के लिए वीजा नहीं मिलेगा.

यूएस इमिग्रेशन एंड कस्टम्स एनफोर्समेंट (US Immigration and Customs Enforcement-ICE) ने अपने बयान में कहा कि नॉनइमिग्रेडेंट F-1 और M-1 छात्रों की क्लासेज अगर पूरी तरह से ऑनलाइन संचालित होती हैं तो उन्हें अमेरिका में रहने की जरूरत नहीं है. ICE के अनुसार, FE-1 के छात्र अकेदमिक कोर्स और M-1 स्टूडेंट वोकेशनल कोर्स करते हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

इस तरह के कार्यक्रमों में शामिल विदेशी छात्रों को उनके देश वापस भेज दिया जाएगा. या उन्हें अन्य उपायों पर ध्यान देना होगा. जैसे कि फिलहाल अमेरिका की ज्यादातर यूनिवर्सिटी में ऑनलाइन और इन-पर्सन मिक्स कोर्स चल रहे हैं, यानी पढ़ाई की ज़रुरत के हिसाब से छात्र के पास ऑनलाइन या फिर कैंपस जाने का विकल्प मौजूद है.

अमेरिका में कई भारतीय छात्र भी स्टूडेंट वीजा लेकर पढ़ाई कर रहे हैं. कोरोना के कारण अमेरिका की कई बड़ी यूनिवर्सिटीज ने पहले ही ऑनलाइन क्लासेज शुरू कर दी है. हॉवर्ड ने भी अपने सभी कोर्स ऑनलाइन शुरू कर दिए हैं. अब छात्रों को कैंपस में आने की जरूरत नही हैं. ऐसे में अब अमेरिका में पढ़ रहे विदेशी छात्रों को वापस भेजने का रास्ता खुल गया है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts