“अपने भाई से शादी की, अवैध तरीके से अमेरिका आईं”, ट्रंप का डेमोक्रेट इल्हान उमर पर हमला

उमर (Ilhan Omar) 12 साल की उम्र में 1995 में सोमालिया के गृहयुद्ध से भागे हुए शरणार्थी के रूप में अमेरिका पहुंचीं. वह अगले पांच साल बाद यानी 17 साल की उम्र में अमेरिकी नागरिक बन गईं.

डेमोक्रेट इल्हान उमर (File Pic)

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने शुक्रवार को एक चुनावी रैली में न्याय विभाग से अनुरोध किया है कि वो रिप्रिजेंटेटिव (प्रतिनिधि) इल्हान उमर (Ilhan Omar) की जांच करें. उन्होंने रैली के दौरान डेमोक्रेट को अपमानित भी किया. ट्रंप ने इल्हान उमर के बारे में कहा कि उन्होंने अपने भाई से शादी की और गैरकानूनी तरीके से अमेरिका चली आईं.

उमर और अन्य उदारवादी महिला सांसदों पर ट्रंप अपने भाषणों में टारगेट करते रहे हैं. शुक्रवार को उन्होंने कहा कि वह हमारे देश से नफरत करती हैं. उन्हें लगता है कि वो नवंबर में होने वाले चुनाव में मिनेसोटा में जीत दर्ज कर लेंगी. ट्रंप ने उमर पर आरोप लगाते हुए कहा कि वो ऐसी जगह से आती हैं जहां सरकार तक नहीं है. अब वो यहां आकर हमें ये बताएंगी की सरकार कैसे चलानी है.

ये भी पढ़ें-चीन का एक और खतरनाक प्लान! अमेरिकियों के डीएनए और मेडिकल डाटा तक बना रहा पहुंच

1995 में अमेरिका आईं उमर

उमर 12 साल की उम्र में 1995 में सोमालिया के गृहयुद्ध से भागे हुए शरणार्थी के रूप में अमेरिका पहुंचीं. वह अगले पांच साल बाद यानी 17 साल की उम्र में अमेरिकी नागरिक बन गईं. साल 2018 में वो कांग्रेस के लिए चुनी गईं. उमर ने मीडिया के उन सारे आरोपों को नकारा जिसमें कहा गया कि उनके दूसरे पति उनके भाई थे. उन्होंने कांग्रेस में उस आरोप को भी नकारा, जिसमें कहा गया कि उन्होंने इमिग्रेशन फ्रॉड के लिए शादी की. उन्होंने कहा कि वह सात बच्चों में सबसे छोटी हैं. इस बात का कोई सबूत नहीं मिला कि उन्होंने अपने भाई से शादी की या अवैध तरीके से अमेरिका आईं.

पहली अमेरिकी मुस्लिम जिसने हिजाब पहनकर ली शपथ

आपको बता दें कि इल्हान कांग्रेस तक पहुंची पहली अमेरिकी मुस्लिम महिला हैं जिन्होंने हिजाब पहनकर शपथ ली थी. डेमोक्रेट पार्टी से सांसद चुनी गईं इल्हान ने हाउस फ्लोर पर सिर ढकने पर लगे प्रतिबंध को खत्म करने की शुरुआत की. सोमालिया में गृह युद्ध के बाद 1991 में इल्हान का परिवार केन्या के शरणार्थी कैंप में रहा और फिर उसके बाद अमेरिका आया.

ये भी पढ़ें-US: ट्रंप ने COVID-19 को लेकर चीन पर बोला हमला, कहा- ‘अमेरिका नहीं भूलेगा चीन की करतूत’

Related Posts