अमेरिका के बाद अब फ्रांस में भी ‘अश्वेत’ की मौत के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, पेरिस में 18 गिरफ्तार

पेरिस में प्रदर्शन (Violence) के दौरान तब हिंसा भड़क गई, जब कुछ प्रदर्शनकारियों (Protesters) ने प्रोजेक्टाइल को आग लगा दी. इसके बाद आग और तोड़फोड़ से सार्वजनिक संपत्ति (Public Property) को नुकसान पहुंचाया गया.
Illegal protests in France, अमेरिका के बाद अब फ्रांस में भी ‘अश्वेत’ की मौत के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन, पेरिस में 18 गिरफ्तार

पेरिस (Paris) में पुलिस हिरासत में 2016 में हुई एक अश्वेत व्यक्ति की मौत के खिलाफ रातों-रात भड़का एक गैरकानूनी विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गया. इसके चलते फ्रांसीसी रॉइट पुलिस ने 18 लोगों को गिरफ्तार किया है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की एक रिपोर्ट के अनुसार, मंगलवार शाम को राजधानी के उत्तर में रिंग रोड के पास करीब 20 हजार लोगों ने पेरिस कोर्ट के सामने प्रदर्शन किया. ये लोग एडमा ट्रेवरे के लिए न्याय की गुहार लगा रहे थे, जिसे एक विवाद के चलते गिरफ्तार किया गया था और पुलिस हिरासत में उसकी मौत हो गई थी.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

प्रदर्शन के दौरान तब हिंसा भड़क गई, जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने प्रोजेक्टाइल को आग लगा दी. इसके बाद आग और तोड़फोड़ से सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाया गया. फिर पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस छोड़ी.

ले फिगारो अखबार ने बुधवार को यह रिपोर्ट की कि पब्लिक और प्राइवेट संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने और प्रतिबंधित हथियार ले जाने के आरोप में पुलिस ने 17 लोगों को हिरासत में लिया.

रिपोर्ट में कहा गया है कि अन्य फ्रांसीसी शहरों लिली, मार्सिले और लियोन में पुलिस हिंसा के खिलाफ भी रैलियों का आयोजन किया गया था. मंगलवार की सुबह, पेरिस पुलिस ने घोषणा की कि लोगों को प्रदर्शन करने का अधिकार नहीं था, क्योंकि कोरोनोवायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) की वजह से 10 से ज्यादा लोगों की पब्लिक मीटिंग्स पर रोक लगा दी गई है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts