पाकिस्तान में महंगाई से निजात दिलाने का इमरान खान ने दिलाया भरोसा, लोगों ने कर दिया ट्रोल

पाकिस्तान की जनता महंगाई से बेहाल है. प्रधानमंत्री इमरान खान ने 9 फरवरी को ट्वीट करके इससे निजात दिलाने का वादा किया. उन्होंने लिखा – मैं आम लोगों और सैलरी वाले लोगों की समस्याएं समझता हूं.

  • TV9.com
  • Publish Date - 9:34 am, Mon, 10 February 20

पाकिस्तान की जनता महंगाई से बेहाल है. प्रधानमंत्री इमरान खान ने 9 फरवरी को ट्वीट करके इससे निजात दिलाने का वादा किया. उन्होंने लिखा ‘मैं आम लोगों और सैलरी वाले लोगों की समस्याएं समझता हूं और चाहे जो हो, मेरी सरकार मंगलवार(11 फरवरी) को कैबिनेट में कई योजनाओं का ऐलान करेगी जिसके अंतर्गत आम लोगों के लिए जरूरी खाने के सामान की कीमत कम की जाएंगी.’

इसी ट्वीट में आगे जोड़ते हुए इमरान खान ने कुछ और बातें लिखीं. उन्होंने लिखा कि सभी संबंधित सरकारी एजेंसियों ने आटा और चीनी की बढ़ती कीमतों पर जांच शुरू कर दी है. देश को भरोसा रखना चाहिए कि जो भी जिम्मेदार हैं उनकी जवाबदेही तय की जाएगी और जरूरी कार्रवाई की जाएगी.

पाकिस्तान के आंकड़े देखें तो गेहूं, आटा, दाल, चीनी, गुड़ और खाद्य तेलों के अलावा लगभग सभी खाद्य सामग्रियों की कीमतों में बेतहाशा बढ़ोत्तरी हुई है. इसकी वजह से चौतरफा आलोचना झेल रहे इमरान खान ने 8 फरवरी को अपनी आर्थिक टीम के सदस्यों को कीमतें कम करने के लिए तत्काल उपाय करने के निर्देश दिए, उसके बाद यह ट्वीट किया.

अब इन ट्वीट्स पर लोग इमरान खान के मजे ले रहे हैं, उन्हें ट्रोल कर रहे हैं. एक यूजर ने लिखा कि आप इस्तीफा दें और राजनैतिक स्तर के लोगों को आर्थिक समस्याओं पर काम करने दें. आपको क्रिकेट कमेंट्री में लौटना चाहिए और एंजॉय करना चाहिए.

एक ट्विटर यूजर ने इमरान खान को यूट्यूब वीडियोज देखने की सलाह दे डाली.

इसी तरह कुछ ट्विटर यूजर्स ने उनसे पूछा कि क्या आप इस्तीफा दे रहे हैं, तो कुछ ने कहा कि बांग्लादेश के आर्थिक विकास पर नजर डालिए.

इस ट्रोलिंग के साथ पाकिस्तान की जनता बड़ी उम्मीदों से मंगलवार का इंतजार कर रही है और सोच रही है कि इमरान खान आखिर क्या ऐलान करने वाले हैं.

ये भी पढ़ेंः

चीन के करीबी रहे श्रीलंका ने अचानक क्यों बदली विदेश नीति, शीर्ष नेताओं के भारत दौरे का क्या मतलब?

पाकिस्तान में हिंदुओं को सौंपा गया 200 साल पुराना मंदिर, श्रद्धालुओं से मांगी माफी

करतारपुर : अब बिना पासपोर्ट गुरुद्वारा दरबार साहिब के दर्शन कर सकेंगें भारतीय श्रद्धालु!