तुर्की जाने वाले हो जाएं सतर्क, सरकार ने जारी की एडवायजरी

सीरिया में कुर्द ठिकानों पर हमले के बाद से तुर्की में तनाव है. साथ ही कश्‍मीर मुद्दे पर उसका पाकिस्‍तान के साथ खड़ा होना भारत को बिल्‍कुल पसंद नहीं आया.

भारत सरकार ने तुर्की के लिए एडवाजयरी जारी की है. भारतीय नागरिकों से तुर्की जाने पर अतिरिक्‍त सुरक्षा बरतने को कहा गया है. सीरिया में कुर्द ठिकानों पर हमले के बाद से तुर्की में तनाव है. साथ ही कश्‍मीर मुद्दे पर उसका पाकिस्‍तान के साथ खड़ा होना भारत को बिल्‍कुल पसंद नहीं आया.

पहले राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में कश्मीर मुद्दा उठाया. इसके बाद फायनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) बैठक में खुलकर पाकिस्तान का साथ दिया. इससे भारत खफा हो गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपनी तुर्की यात्रा रद्द कर दी थी. दोनों देशों के रिश्तों में कभी बहुत गर्मजोशी नहीं रही. मोदी की यात्रा रद्द होने से साफ हो गया था कि खटास पैदा हो गई है.

भारत ने UNGA में तुर्की की कश्मीर को लेकर की गई टिप्पणी को ‘पक्षपाती’ करार दिया था. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि “एर्दोगन ने जमीनी हकीकत को जाने बिना यह टिप्पणी की. उन्हें आगे से इस प्रकार की टिप्पणी करने से बचना चाहिए.” तुर्की के राष्ट्रपति ने कहा था जम्मू एवं कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव के बावजूद आठ लाख लोग कैद में हैं.

ये भी पढ़ें

लिफ्ट और दरवाजे के बीच फंसी नौ साल की बच्ची, शरीर चीरते चला गया एलिवेटर

आवारा सांड ने कचरे के साथ निगला 3 तोला सोना, खातिरदारी में जुटा परिवार