ईरान ने जारी किया ट्रंप की गिरफ्तारी का वारंट, इंटरपोल से कहा- US प्रेसीडेंट को पकड़ने में मदद करो

हालांकि भले ही ईरान ने इंटरपोल की मदद मांगी है लेकिन फ्रांस के ल्योन स्थित इंटरपोल ने इस पर तुरंत कोई जवाब नहीं दिया है.
US President Donald Trump, ईरान ने जारी किया ट्रंप की गिरफ्तारी का वारंट, इंटरपोल से कहा- US प्रेसीडेंट को पकड़ने में मदद करो

ईरान ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US resident Donald Trump) की गिरफ्तारी का वारंट जारी किया है और इंटरपोल से ट्रंप और दर्जनों लोगों को हिरासत में लेने के लिए मदद मांगी है. तेहरान के प्रोसेक्यूटर अली अलकासीमहर ने सोमवार को कहा कि ट्रंप पर 30 से अधिक लोगों के साथ 3 जनवरी के हमले में शामिल होने का आरोप है, जिसमें ईरान के जनरल कासिम सोलेमानी की मौत हुई थी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

दरअसल अमेरिका और ईरान के बीच तनाव को लेकर अमेरिका ने जनवरी में बगदाद इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास सैन्य कार्रवाई की थी. जिसमें ईरानी रिवोल्यूशनरी गार्ड (IRGC) के सीनियर जनरल और कुद्स फोर्स कमांडर कासिम सुलेमानी मारे गए थे.

ISNA की खबर के अनुसार अलकासीमहर ने ट्रंप के अलावा किसी और की पहचान नहीं की लेकिन इस बात पर जोर दिया कि ईरान, उनका राष्ट्रपति पद समाप्त होने के बाद भी अपने चार्जेस को जारी रखेगा.

ट्रंप को गिरफ्तारी का कोई खतरा नहीं

हालांकि, ट्रंप को गिरफ्तारी का कोई खतरा नहीं है क्योंकि पहले ही अमेरिका के तेहरान के साथ न्यूक्लियर डील में पीछे हटने से दोनों देशों के बीच तनाव बहुत ज्यादा है. ऐसे में ईरान के इस कदम से तनाव और भी बढ़ेगा.

भले ही ईरान ने इंटरपोल की मदद मांगी है लेकिन फ्रांस के ल्योन स्थित इंटरपोल ने इस पर तुरंत कोई जवाब नहीं दिया है. फिलहाल इसकी संभावना नहीं है कि इंटरपोल ईरान के अनुरोध को स्वीकारेगा.

ईरान ने की थी ‘रेड नोटिस’ की मांग

अलकासीमर के मुताबिक ईरान ने इंटरपोल से ट्रंप और बाकी लोगों के लिए ‘रेड नोटिस’ की मांग भी की थी. जोकि इंटरपोल की तरफ से जारी हाइजेस्ट लेवल का नोटिस है. बता दें कि इंटरपोल जिस शख्स के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करता है, उसकी गिरफ्तारी के लिए इंटरपोल किसी सदस्य देश को मजबूर नहीं कर सकता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts