न्यूजीलैंड के आम चुनाव में जेसिंडा अर्डर्न की शानदार जीत, कोरोना से जंग जीतने के बाद बढ़ी लोकप्रियता

समर्थकों (Supporters) को संबोधित करते हुए जेसिंडा अर्डर्न ने कहा कि जनता के समर्थन को हल्के में नहीं लिया जाएगा. वह जनादेश का इस्तेमाल सामाजिक असमानता (Social Inequality) को दूर करने के लिए करेंगी.

  • IANS
  • Publish Date - 6:33 pm, Sat, 17 October 20
न्यूजीलैंड के आम चुनाव में प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने दोबारा शानदार जीत हासिल की है.

न्यूजीलैंड (New Zealand)  के आम चुनाव (General Election) में प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने दोबारा शानदार जीत हासिल की है. आज आम चुनाव के रिजल्ट घोषित (Declare Results) किए गए. इस जीत के साथ ही जेसिंडा अर्डर्न दूसरी बार प्रधानमंत्री (Second Time PM) का पद संभालेंगी. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक जेसिंडा अर्डर्न की सत्तारूढ़ लेबर पार्टी (Labour Party) ने 49 प्रतिशत वोट हासिल किए हैं, इसके साथ ही उनके 64 सीटें जीतने का अनुमान लगाया जा रहा है. यह आंकड़ा बहुमत के लिए काफी है.

चुनाव आयोग (Election Commission) के मुताबिक आम चुनाव में विपक्षी सेंटर-राइट नेशनल पार्टी को सिर्फ 27 प्रतिशत वोट (Vote) ही मिले, जिसके बाद उसने अपनी हार स्वीकार कर ली. वहीं एसीटी न्यूजीलैंड और ग्रीन पार्टियां 8 फीसदी वोटों के साथ तीसरे नंबर पर रहीं.

ये भी पढ़ें- 102 दिनों बाद न्यूजीलैंड में लौटा Coronavirus, एक महीने के लिए टालने पड़े लोकसभा चुनाव

‘समर्थन के लिए समर्थकों का आभार’

आम चुनाव के रिजल्ट सामने आने के बाद अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए जेसिंडा अर्डर्न ने कहा कि, उनके समर्थन को हल्के में नहीं लिया जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने वादा किया कि वह एक ऐसी पार्टी का प्रतिनिधित्व करेंगी, जो हर न्यूजीलैंडवासी के लिए शासन करेगी. उन्होंने कहा कि न्यूजीलैंड ने पिछले 50 सालों में लेबर पार्टी को अपना सबसे ज्यादा समर्थन दिया है.

इसके साथ ही उन्होंने ये भी साफ किया कि वह जनादेश का इस्तेमाल सामाजिक असमानता को दूर करने के लिए करेंगी. बतादें कि कोरोनावायरस महामारी का सख्ती से सामना करने के बाद देश में उनकी लोकप्रियता और भी बढ़ गई है. शायद यही वजह है कि वह एकबार फिर से प्रधानमंत्री पद के लिए न्यूजीलैंड की जनता की पहली पसंद बन गई हैं.

ये भी पढ़ें- क्राइस्टचर्च हमले के बाद न्यूजीलैंड में बैन हुई सेमी-ऑटोमेटिक बंदूके

कोरोना को हराने के बाद बढ़ी पीएम जेसिंडा की लोकप्रियता

जेसिंडा ने इस चुनाव को कोविड इलेक्शन नाम दिया था, इसके साथ ही उन्होंने अपनी पार्टी का प्रचार भी महामारी को खत्म करने और वायरस का कम्यूनिटी स्प्रेड रोकने में हासिल की गई सफलताओं के आधार पर किया था. जब दुनियाभर के देश कोरोना संकट से जूझ रहे हैं, ऐसे में न्यूजीलैंड पूरी तरह से कोराना मुक्त हो चुका है, जिसके बाद वहां की जनता को सार्वजनिक जगहों पर मास्क से छूट दे दी गई है.