पाकिस्तान में ‘एंटी नेशनल’ फेसबुक पोस्ट करने पर गिरफ्तार हुआ पत्रकार

लाहौर प्रेस क्लब ने एक बयान जारी कर वाहिद की गिरफ्तारी की कड़ी आलोचना करते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान से वाहिद को तत्काल रिहा करने की मांग की है. प्रेस क्लब ने FIA से माफी मांगने की मांग की है और ऐसा न होने की स्थिति में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन की चेतावनी दी है.

लाहौर की एक अदालत ने फेसबुक पर एक देश विरोधी पोस्ट शेयर करने के आरोप में एक पत्रकार को फेडरल इनवेस्टिगेशन एजेंसी (FIA) की तीन दिन की हिरासत में भेज दिया है. डॉन न्यूज ने कहा कि चैनल फाइव और उर्दू समाचार पत्र खबरें से जुड़े अजहरुल हक वाहिद को FIA ने गुरुवार को गिरफ्तार किया था और उनके खिलाफ एक मुकदमा भी दर्ज किया था.

दर्ज मामले के अनुसार, ‘सोशल मीडिया की जांच के दौरान राष्ट्रविरोधी और सरकारी अधिकारियों और विभिन्न विभागों के खिलाफ आपत्तिजनक पोस्ट वाहिद के नाम की फेसबुक प्रोफाइल से अपलोड किए गए.’ FIA ने पत्रकार को शुक्रवार को न्यासिक दंडाधिकारी यासिर अराफात के समक्ष पेश किया. एजेंसी के वकील ने यह कहते हुए वाहिद की रिमांड की मांग की कि उसे आगे की जांच के लिए इसकी जरूरत है.

फिलहाल यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि राष्ट्र विरोधी सामग्री क्या थी. वकील ने कहा कि आरोपी ने अपने फेसबुक पेज पर देश के राष्ट्रगान से छेड़छाड़ कर उसे अपमानजनक बनाकर शेयर किया था. उन्होंने कहा कि पत्रकार के आवास पर भी तलाशी ली गई है. पूरी बहस सुनने के बाद कोर्ट ने वाहिद को तीन दिन के लिए FIA की हिरासत में भेज दिया. एजेंसी को वाहिद को 20 जनवरी को फिर पेश करने के लिए कहा है.

इस बीच लाहौर प्रेस क्लब ने शुक्रवार को एक बयान जारी कर वाहिद की गिरफ्तारी की कड़ी आलोचना की है. प्रेस क्लब ने प्रधानमंत्री इमरान खान से वाहिद को तत्काल रिहा करने की मांग की है. प्रेस क्लब ने FIA से माफी मांगने की मांग की है और ऐसा न होने की स्थिति में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन की चेतावनी दी है.

ये भी पढ़ें: ईसाई महिला की फांसी रद्द होने पर काटा था बवाल, कट्टरपंथी पार्टी के सदस्यों को 55 साल की सजा