राष्‍ट्रपति पद की दौड़ से अलग हुईं कमला हैरिस, ट्रंप ने ‘मिस यू’ लिखा तो दिया ये जवाब

कमाल हैरिस ने अगले साल नवंबर में होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए इस साल जनवरी में अपनी उम्‍मीदवारी का ऐलान किया था. प्रचार अभियान शुरू करने से पहले ही उन्‍हें इस शीर्ष पद के लिए फ्रंट रनर के रूप में देखा जा रहा था.
kamala harris ends election campaign, राष्‍ट्रपति पद की दौड़ से अलग हुईं कमला हैरिस, ट्रंप ने ‘मिस यू’ लिखा तो दिया ये जवाब

भारतीय मूल की अमरीकी सांसद कमला हैरिस ने आगामी राष्ट्रपति पद के चुनाव से अपना नाम वापस ले लिया है. कैलिफॉर्निया की डेमोक्रेटिक सांसद कमला हैरिस ने बुधवार को इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा की वो अपना चुनाव प्रचार बंद कर रही हैं. कमला हैरिस साल 2016 में कैलीफ़ोर्निया से सांसद बनी थीं. इससे पहले वो यहां की अटार्नी जनरल थीं.

दरअसल कमला हैरिस ने एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने चुनाव प्रचार बंद करने की जानकारी दी. हैरिस ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर लिखा, “मैं अपने समर्थकों को गहरे अफसोस और पूरी कृतज्ञता के साथ माफी मांगते हुए बताना चाहती हूं कि मैं आज अपना चुनावी अभियान खत्म कर रही हूं. लेकिन मैं आपसे साफ कर देना चाहती हूं कि लोगों को न्याय और सभी को न्याय जिसके लिए यह अभियान है, मैं उसके लिए प्रतिदिन लड़ती रहूंगी”.

कमला हैरिस के पीछे हटने पर राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने ट्वीट किया ‘मिस यू’. इस पर जवाब देते हुए कमला हैरिस ने लिखा, “परेशान ना हों राष्ट्रपति जी, आपको ट्रायल में देख लेंगे.”

कौन हैं कमला हैरिस
कमला हैरिस दो बार, साल 2004 से 2011 तक सैन फ्रांसिस्को की डिस्ट्रिक्टि अटार्नी रह चुकी हैं. इसके बाद वो साल 2011 से 2017 तक कैलिफोर्निया की अटार्नी जनरल भी रही हैं. वो पहली अश्वेत महिला हैं, जो इन पदों पर इतने साल तक रही हैं.

हैरिस ने अगले साल नवंबर में होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए इस साल जनवरी में अपनी उम्‍मीदवारी का ऐलान किया था, तब प्रचार अभियान शुरू करने से पहले ही उन्‍हें इस शीर्ष पद के लिए फ्रंट रनर के रूप में देखा जा रहा था. हैरिस ने अपने गृहनगर ऑकलैंड (कैलिफॉर्निया) में समर्थकों की भारी भीड़ के बीच चुनाव प्रचार का आगाज किया था.

कमला हैरिस उस समय काफी विवादों में रहीं, जब उनकी एक सहयोगी ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए साल 2016 में पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया था. उस वक़्त कमला ने इस मामले की जानकारी न होने की बात कही थी.

ये भी पढ़ें:माल्या-नीरव मोदी जैसे 50 से ज्यादा भगोड़ों ने लगाया 17,900 करोड़ रुपये का चूना

Related Posts