LGBTQ समुदाय के You Tubers ने Google पर लगाया भेदभाव का आरोप, दर्ज किया मुकदमा

क्रिसी चेम्बर्स ऑफ ब्रिया एंड क्रिसी का LGBTQ दर्शकों के लिए एक चैनल है, जिनका दावा है कि You Tube ने गलत तरीके से उनके वीडियो को प्रतिबंधित कर दिया, इसलिए उसे देखने वालों की संख्या सीमित हो गई और वे इससे जितने पैसे कमा सकते थे, नहीं कमा पाए.

सैन फ्रांसिस्को: LGBTQ यूट्यूबर्स के एक समूह ने वीडियो शेयररिंग प्लेटफार्म You Tube और उसकी पैरेंट फर्म Google पर ‘घृणा’ फैलाने वाले कंटेट के खराब मॉडरेशन और LGBTQ क्रिएटर्स के वीडियो को गलत तरीके से प्रतिबंधित करने को लेकर मुकदमा दर्ज कराया है.

CNET में बुधवार को प्रकाशित रिपोर्ट में कहा गया, “केलिफोर्निया के उत्तरी जिले में अमेरिकी जिला न्यायालय में दाखिल इस मुकदमे के मुताबिक, साल 2016 से ही You Tube और Google गैरकानूनी कंटेंट विनियमन, वितरण, और विमुद्रीकरण में लिप्त रही है, जिससे LGBTQ प्लस वादियों और संपूर्ण LGBTQ प्लस समुदाय को कलंकित, प्रतिबंधित, ब्लॉक करना, निंदा करना और वित्तीय रूप से हानि पहुंचाया जा रहा है.”

रिपोर्ट में कहा गया कि एक You Tuber ने साइट पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में इस मुकदमे की जानकारी देते हुए कहा, “उन्होंने हमारे गौरव को छीन लिया, उन्होंने हमें विज्ञापन खरीदने की अनुमति नहीं दी, उन्होंने हमें बाधित किया. उन्होंने हमें मुद्रीकरण करने से रोका, और वे हमारे समर्थन में खड़े नहीं हुए.” इन क्रिएटर्स में ब्रिया काम और क्रिसी चेम्बर्स ऑफ ब्रिया एंड क्रिसी शामिल है.

क्रिसी चेम्बर्स ऑफ ब्रिया एंड क्रिसी का LGBTQ दर्शकों के लिए एक चैनल है, जिनका दावा है कि You Tube ने गलत तरीके से उनके वीडियो को प्रतिबंधित कर दिया, इसलिए उसे देखने वालों की संख्या सीमित हो गई और वे इससे जितने पैसे कमा सकते थे, नहीं कमा पाए.

ये भी पढ़ें: देश से दूर टीम इंडिया ने कुछ यूं दी देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की बधाई