• Home  »  दुनिया   »   लंदन: भारतीय मूल के बुजुर्ग का दावा, 1500 दिनों में की धरती की परिधि के बराबर यात्रा

लंदन: भारतीय मूल के बुजुर्ग का दावा, 1500 दिनों में की धरती की परिधि के बराबर यात्रा

बुजुर्ग के मुताबिक उन्होंने लिमरिक शहर से बाहर जाए बिना ही ‘अर्थ वॉक’ (Earth Walk) यात्रा पूरी की. उन्होंने अगस्त 2016 में वजन कम (Weight Loose) करने के इरादे के साथ यह यात्रा शुरू की थी.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 1:12 pm, Sat, 17 October 20
बुजुर्ग का दावा 1,500 दिन में पृथ्वी की परिधि के बराबर पूरी की यात्रा.

पंजाब में जन्मे और पिछले 40 सालों से ज्यादा समय से आयरलैंड (Ireland) में रह रहे 70 साल के एक बुजुर्ग विनोद बजाज ने दावा किया है कि, वह 1,500 दिनों में पृथ्वी की परिधि के बराबर ( Equal to circumference of the earth) 40,075 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर चुके हैं, उन्होंने गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड (Guinness World Records) के लिए आवेदन भी दिया है.

भारतीय मूल के बुजुर्ग के मुताबिक उन्होंने अपने शहर लिमरिक से बाहर जाए बिना ही ‘अर्थ वॉक’ (Earth Walk) यात्रा पूरी की. उन्होंने अगस्त 2016 में वजन कम (Weight Loose) करने और शरीर को सुडौल बनाने के इरादे के साथ यह यात्रा (Travel) शुरू की थी. उनका कहना है कि जैसे-जैसे उनका वजन कम होता गया, वैसे-वैसे चलने का उनका उत्साह भी बढ़ता गया, इसके लिए उन्होंने कई चीजों को अपनाया.

ये भी पढ़ें- क्या है इस खबर में ऐसा कि इसे कहा जा रहा है Best News of 2020

यात्रा से शरीर में हर दिन 700 कैलोरी हुईं कम

विनोद बजाज ने बताया कि जब-जब उन्हें मौसम संबंधी दिक्कतें आईं, तब उन्होंने मॉल में इस यात्रा को पूरा किया. बजाज ने कहा कि शुरुआती तीन महीने तक वह पूरे हफ्ते चलते रहे, जिसकी वजह से रोजाना उनके शरीर में 700 कैलोरी हुईं, और उनका वजन आठ किलो तक घट गया. अगले छह महीने में उनका वजन, 12 किलो और घट गया.

बुजुर्ग ने कहा कि उनका वजन चलने की वजह से ही कम हुआ है, क्यों कि उन्होंने खान-पान में कोई बदलाव नहीं किया था. बतादें कि विनोद बजाज सेवानिवृत्त इंजीनियर हैं, और चेन्नई में पले-बढ़े हैं. वह साल 1975 में प्रबंधन की पढ़ाई के लिए ग्लासगो आयरलैंड चले गए थे. फिलहाल वह अपने परिवार के साथ लिमरिक में रहते हैं.

उन्होंने बताया कि पहले साल के आखिरी तक उन्होंने 7,600 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली थी. वह खुद इस बात से हौरान थे, कि उन्होंने भारत से आयरलैंड तक कि दूरी कैसे तय कर ली. वह लगातार चलते रहे, और दो साल में उन्होंने 15,200 किलोमीटर की यात्रा पूरी कर ली. जिसके बाद उन्हें एहसास हुआ कि वह वास्तव में चंद्रमा की परिधि (10,921 किलोमीटर) से ज्यादा चल चुके हैं.

बुजुर्ग ने पूरी की पृथ्वी की परधि के बराबर यात्रा

इसके बाद उन्होंने मंगल ग्रह की परिधि (21,344 किलोमीटर) के बराबर चलने का फैसला लिया. उन्होंने कहा कि मंगल ग्रह की परिधि और पृथ्वी की परिधि में 19,000 किलोमीटर का अंतर है, वह यह भी जानते थे कि यह आसान नहीं है, लेकिन फिर भी अपने लक्ष्य को पूरा करना के लिए वह लगातार चल रहे थे.

ये भी पढ़ें- पृथ्वी के बहुत पास से कल गुजरेगा उल्कापिंड, छोटी स्कूल बस जितना होगा आकार- NASA

विनोद बजाज के मुताबिक उन्होंने 21 सितंबर को ही अर्थ वॉक पूरी कर ली थी, उनका आवेदन अभी गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में प्रक्रिया में है और यह मूल्यांकन चल रहा है कि क्या 1,496 दिनों और 54,633,135 कदम मिलकर धरती की परिधि के बराबर यात्रा पूरी हो सकती है या नहीं.