20 दिन में आर्मेनिया और अजरबैजान की जंग में 52 हजार से ज्यादा मरे, किसका कितना नुकसान?

आर्मेनिया (Armenia) और अजरबैजान (Azerbaijan) के बीच युद्ध में अब तक 52 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं. 20 दिनों में दोनों देशों का बेहिसाब नुकसान हो चुका है.

Armenia Azerbaijan

आर्मेनिया और अजरबैजान (Azerbaijan) के बीच युद्ध में अब तक 52 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इस वॉर के 20 दिन हो चुके हैं इसके बावजूद जंग थमने के कोई आसार नज़र नहीं आ रहे हैं. आर्मेनिया ने अब तक 52 हजार जिंदगी छिनने वाली इस अंतहीन जंग की खौफनाक तस्वीर जारी की. नागोर्नो काराबाख (Nagorno Karbakh) से आई तस्वीर में अजरबैजान की बर्बादी और तुर्की की तबाही साफ देखी जा सकती है.

तबाही की दूसरी तस्वीर भी अजरबैजान की है. आर्मेनिया की सेना लगातार रॉकेट दाग रही है. टारगेट पर अजरबैजान-तुर्की की सेना और गांजा शहर है. सेना के साथ-साथ शहरों पर भी बारूद बरस रहे हैं. छतें छिन्न-भिन्न हो चुकी है और दीवारें छलनी है. आर्मेनिया अकेले अजरबैजान और तुर्की के खिलाफ नागोर्नो काराबाख के जंग-ए-मैदान में अड़ा है और रूस के हथियारों से प्रहार कर रहा है. आंकड़ों से समझिए कि 20 दिनों में अजरबैजान को कितना नुकासान हुआ है.

यह भी पढ़ें : आर्मेनिया-अजरबैजान के बीच युद्धविराम की घोषणा, रूस के दखल से बनी बात

अजरबैजान को कितना नुकासान

अजरबैजान के 505 किलर ड्रोन हवा में ही आग का गोला बन चुके हैं. आर्मेनिया ने अजरबैजान के 86 हेलिकॉप्टर और 38 एयरक्राफ्ट को तबाह कर दिया. इतना नहीं 513 बख्तरबंद गाड़ियां और 83 रॉकेट लॉन्चर भी बर्बाद हो चुके हैं. वॉर जोन में अजरबैजान के 14700 जवान मारे जा चुके हैं. हालांकि इसमें तुर्की की सेना और सीरिया के दहशतगर्दों की गिनती नहीं है जबकि 20 दिनों के इस युद्ध में अब तक 8230 लोगों की जान जा चुकी है.

ये सिर्फ आंकड़ा है, जो हर घंटे बढ़ता जा रहा है हालांकि आर्मेनिया के प्रहार पर अजरबैजान भी जोरदार पलटवार कर रहा है. आर्मेनिया से ज्यादा मारक क्षमता के साथ अजरबैजान प्रहार कर रहा है. लगातार टैंक बारूद उगल रहे हैं और इजरायल से आयातीत किलर ड्रोन तबाही मचा रहे हैं. सरहद और शहर पर लगातार मिसाइलें दागी जा रही हैं. खासकर आर्मेनिया के प्रभाव वाले स्टेपनकर्ट की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है. हर तरफ तबाही बिखरी पड़ी है.

आर्मेनिया को कितना नुकसान

अब तक के युद्ध में आर्मेनिया पर अजरबैजान भारी पड़ा है. तुर्की और अजरबैजान ने मिलकर अब तक आर्मीनिया के 1080 टैंक को ध्वस्त कर दिया है. 789 आर्टिलरी और 589 बख्तरबंद गाड़ियां तबाह हो चुकी है. अजरबैजान ने आर्मीनिया के 96 एयर डिफेंस सिस्टम बर्बाद कर दिए हैं जबकि आर्मीनिया के 715 ड्रोन गिर चुके हैं.

आर्मेनिया के 92 हेलिकॉप्टर को अजरबैजान आग का गोला बना चुका है. इस युद्ध में अब तक आर्मेनिया के 17800 जवान मारे जा चुके हैं जबकि 10 हजार से ज्यादा आमलोगों की मौत हो चुकी है. आर्मेनिया में तबाही मचाने के लिए अजरबैजान के साथ तुर्की भी खड़ा है. इसके अलावा पाकिस्तानी जवान और सीरियाई आतंकी भी साथ में हैं लेकिन दूसरी तरफ आर्मेनिया के पीछे अब रूस-फ्रांस-सर्बिया खड़े हो चुके हैं. इसके अलावा अमेरिका भी साथ आ रहा है. ये युद्ध विध्वंसक होता जा रहा है.

यह भी पढ़ें : आर्मेनिया ने अजरबैजान के टैंक, हेलीकॉप्टर तबाह किए, देश में लगाया मार्शल लॉ

Related Posts