डोनाल्ड ट्रंप-इमरान खान की मुलाकात से पहले आतंकी हाफिज सईद हो सकता है गिरफ्तार

पाक पीएम के अमेरिका दौरे से चंद दिनों पहले हाफिज सईद समेत संगठन के 12 अन्य नेताओं के खिलाफ आतंकवाद को धन मुहैया कराने और धन शोधन के लगभग दो दर्जन मामले दर्ज किए गए हैं.

नई दिल्ली: मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड और आतंकी संगठन जमात-उद-दावा के सरगना हाफिज सईद को जल्द ही गिरफ्तार किया जा सकता है. साथ ही हाफिज के 12 करीबी सहयोगियों को भी बहुत जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा. न्यूज एजेंसी पीटीआई ने यह खबर स्थानीय पुलिस के हवाले से दी है.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिका दौरे से चंद दिनों पहले हाफिज सईद समेत संगठन के 12 अन्य नेताओं के खिलाफ आतंकवाद को धन मुहैया कराने और धन शोधन के लगभग दो दर्जन मामले दर्ज किए गए हैं.

पंजाब पुलिस के प्रवक्ता नियाब हैदर नकवी से जब यह पूछा गया कि प्राथमिकी में नामजद होने के बाद भी सईद और उसके सहयोगियों को क्यों गिरफ्तार नहीं किया गया, इस पर उन्होंने कहा, ‘पहले संदिग्ध के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाती है और फिर उन्हें गिरफ्तार किया जाता है. प्राथमिकी में नामजद सईद और अन्य लोगों को भी आगे गिरफ्तार किया जाएगा.’

आतंकवाद रोधी अधिनियम के तहत मामले दर्ज
द डॉन की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकवाद रोधी अधिनियम 1997 के अंतर्गत पंजाब के पांच शहरों में मामले दर्ज करने वाले अपराध निरोधक विभाग (सीटीडी) ने घोषणा की कि जेयूडी अल-अनफाल ट्रस्ट, दावातुल इरशाद ट्रस्ट और मुआज बिन जबल ट्रस्ट जैसे गैर-लाभकारी संगठनों की मदद से आतंकवाद का वित्त-पोषण कर रहा था.

इन गैर-लाभकारी संगठनों पर अप्रैल में प्रतिबंध लगा दिया गया था, क्योंकि सीटीडी ने अपनी जांच में पाया था कि उनका संबंध जेयूडी और उसके शीर्ष नेतृत्व से है और उन पर पाकिस्तान में इकट्ठे किए गए धन से बड़ी संपत्ति बना आतंकवाद को वित्तीय सहायता प्रदान करने का आरोप लगाया था.

हाफिज के अलावा इन आतंकियों पर होगी कार्रवाई
लाहौर, गुजरांवाला, मुल्तान, फैसलाबाद और सारगोढ़ा में सीटीडी के पुलिस स्टेशनों में जेयूडी के नेताओं के खिलाफ सोमवार और मंगलवार को 23 प्राथमिकी दर्ज की गईं. सईद के अलावा उसके रिश्तेदार नैब अमीर अब्दुल रहमान मक्की, मलिक जफर इकबाल, अमीर हमजा, मोहम्मद याह्या अजीज, मोहम्मद नईम, मोहसिन बिलाल, अब्दुल रकीब, अहमद दाऊद, मोहम्मद अयूब, अब्दुल्ला उबैद, मोहम्मद अली और अब्दुल गफ्फार पर भी मामले दर्ज किए गए हैं.

अमेरिकी दौरे पर जा रहे PAK पीएम
यह कदम इमरात की 20 जुलाई से पांच दिवसीय अमेरिका यात्रा से पहले उठाया गया है. दौरे पर इमरान अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से वार्ता करेंगे. मालूम हो कि अमेरिकी राष्ट्रपति कई बार सार्वजनिक तौर पर आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई न करने को लेकर पाकिस्तान की आलोचना कर चुके हैं. अमेरिका ने इसके बाद पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद पर भी रोक लगा दी थी,. साथ ही एफएटीएफ ने भी पाकिस्तान को संदिग्ध सूची में डाल दिया था.

पंजाब में सीटीडी के प्रवक्ता ने कहा, “पिछले दो दिनों में प्राथमिकियां दर्ज होने के बाद आतंकवाद का वित्तपोषण करने के लिए जेयूडी के शीर्ष नेतृत्व के खिलाफ व्यापक स्तर पर औपचारिक जांच शुरू कर दी गई है.” उन्होंने कहा कि राज्य ने इन लोगों के खिलाफ पर्याप्त और दंडात्मक कार्रवाई कर इन संगठनों को पूरी तरह निष्क्रिय कर दिया है.

ये भी पढ़ें-

“2014 में RBI ने नहीं उठाए सही कदम”, NPA पर उर्जित पटेल ने सुनाई खरी-खरी

सीतापुर BJP विधायक की हरकतों ने DM को कर दिया ख़ामोश, Video वायरल

लोकसभा में आप सांसद भगवंत मान के नियम तोड़ने पर बोले स्पीकर, ‘मैं पढ़ा-लिखा सभापति हूं’, देखें VIDEO