अमेरिका में 25 नवंबर से पहले नहीं आएगी वैक्सीन, ट्रंप की उम्मीदों को झटका

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) आने का वादा कर चुके डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) की उम्मीदों को झटका लग सकता है.

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव से पहले कोरोना वायरस की वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) आने का वादा कर चुके अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (US President Donald Trump) की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है.

अमेरिकी बायोटेक फर्म मोडर्ना (Moderna) ने कहा कि उसकी वैक्सीन 25 नवंबर से पहले नहीं आ पाएगी. कंपनी के सीईओ ने बुधवार को कहा कि कंपनी 25 नवंबर से पहले अपनी कोरोनावायरस वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) के इमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी के लिए आवेदन नहीं करेगी.

अमेरिकी बायोटेक फर्म मोडर्ना (Moderna) के सीईओ स्टेफान बैंसेल ने कहा कि आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण (Emergency Use Authorization) के सामने पेश करने के लिए 25 नवंबर तक हमारे पास जरूरत के हिसाब से सेफ्टी डेटा उपलब्ध होगा, जो हम खाद्य एवं औषधि प्रशासन (Food and Drug Administration) के पास भेजेंगे. अगर सेफ्टी डेटा अच्छा होगा तो वैक्सीन इस्तेमाल के लिए सुरक्षित होगी.’

गौरतलब है कि अमेरिका में कोविड-19 के हालात और रोकथाम, प्रबंधन को लेकर ट्रंप ट्रंप प्रशासन की काफी ओलाचनाएं हो रही हैं. ट्रंप कई मौकों पर अमेरिकी चुनाव से पहले कोरोना वैक्सीन आने की घोषणा कर चुके हैं. लेकिन अमेरिकी बायोटेक फर्म Moderna के बयान के बाद वैक्सीन को लेकर अमेरिका में अभी स्थिति साफ नहीं है.

हालांकि, ट्रंप के दावों से विशेषज्ञों के बीच यह डर पैदा हो गया है कि उनका प्रशासन राजनीतिक फायदा उठाने के लिए वैक्सीन की नियामक प्रक्रियाओं में दखल डाल सकता है. बता दें कि अमेरिकी बायोटेक फर्म मोडर्ना Moderna मोडर्ना की वैक्सीन का परीक्षण अंतिम चरण में है. इसके अलावा 11 अन्य वैक्सीन के ट्रायल अंतिम चरण में चल रहे हैं.

Related Posts