Moody’s ने GDP ग्रोथ रेट के बाद घटाई भारत की क्रेडिट रेटिंग, कहा- आगे आएंगी और भी चुनौती

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस (Moody's) ने अपने एक बयान में कहा कि भारत सरकार की विदेशी मुद्रा और स्थानीय मुद्रा लंबी अवधि की जारीकर्ता रेटिंग को Baa3 से Baa2 से नीचे कर दिया है. Baa3 सबसे निचली निवेश ग्रेड वाली रेटिंग है.
Moody's reduced India's credit rating, Moody’s ने GDP ग्रोथ रेट के बाद घटाई भारत की क्रेडिट रेटिंग, कहा- आगे आएंगी और भी चुनौती

कोरोनावायरस (Coronavirus) के संकट के बीच रेटिंग एजेंसी मूडीज इनवेस्टर्स सर्विस (Moody’s) ने भारत की सॉवरेन क्रेडिट रेटिंग (Sovereign Credit rating) को घटा दिया है. एजेंसी ने भारत की रेटिंग को Baa2 से घटा कर Baa3 कर दिया है. Baa3 सबसे निचली निवेश ग्रेड वाली रेटिंग है.

अपने एक बयान में एजेंसी ने कहा कि कम वृद्धि और बिगड़ती राजकोषीय स्थिति के जोखिमों को कम करने के लिए नीतियों के कार्यान्वयन में चुनौतियां होंगी. बयान में आगे कहा गया है कि मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने भारत सरकार की विदेशी मुद्रा और स्थानीय मुद्रा लंबी अवधि की जारीकर्ता रेटिंग को Baa3 से Baa2 से नीचे कर दिया है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

साथ ही भारत की मुद्रा वरिष्ठ बिना गारंटी वाली रेटिंग को Baa2 से Baa3 कर दिया है. इसके अलावा अल्पकालिक स्थानीय-मुद्रा रेटिंग को भी P-2 से P-3 तक डाउनग्रेड कर दिया है. मूडीज ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, यह नेगेटिव विजन है.

आने वाले समय में भारत के लिए चुनौतियां

मूडीज ने कहा कि भारत की रेटिंग को नीचे करने का निर्णय मूडीज के विचार को दर्शाता है कि आने वाले समय में भारत के नीतिनिर्माता संस्थानों के सामने नीतियों को बनाने और उनके क्रियान्वयन की चुनौतियां खड़ी होंगी. ऐसी नीतियां जिनके क्रियान्वयन से कमजोर वृद्धि की अवधि, सरकार की सामान्य वित्तीय स्थिति के और बिगड़ने और वित्तीय क्षेत्र में बढ़ते दबाव के जोखिम को कम करने में मदद मिले.

मालूम हो कि इससे पहले नवंबर 2017 में मूडीज ने 13 साल के अंतराल के बाद भारत की सॉवरेन क्रेडिट रेटिंग को एक पायदान बढ़ा कर Baa2 किया था.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts