Nasa Astronaut का आईना स्पेस में खोया, अब अंतरिक्ष कचरे के रूप में घूम रहा

कमांडर क्रिस कसीडी ने बताया कि स्पेससूट (Spacesuit) से गिरते ही यह आईना प्रति सेकेंड एक फुट की गति से तैरता हुआ दूर चला गया. उसे दोबारा पकड़ पाने का कोई सवाल ही नहीं था.

NASA का एक अंतरिक्ष यात्री अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (International Space Station) से बैट्री बदलने से जुड़े काम के लिए बाहर निकला था. इसी दौरान उसके स्पेससूट (Spacesuit) से एक छोटा आईना बाहर गिर गया. अब यह अंतरिक्ष में शामिल होने वाले नये कचरे का हिस्सा बन गया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

कमांडर क्रिस कसीडी ने बताया कि स्पेससूट से गिरते ही यह आईना प्रति सेकेंड एक फुट की गति से तैरता हुआ दूर चला गया. उसे दोबारा पकड़ पाने का कोई सवाल ही नहीं था.

आईने से अंतरिक्ष यात्रियों को नहीं होगी दिक्कत

इस आइने की वजह से अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस में चलने या स्टेशन को किसी तरह का नुकसान होने की बात से इनकार किया जा रहा है. ऐसे में यह कोई बड़ी चिंता की बात नहीं है.

बता दें कि स्पेस में चलने वाले अंतरिक्ष यात्रियों के स्पेससूट की प्रत्येक बांह पर आईना लगा होता है. दरअसल, इससे यात्रियों को काम करने के दौरान बेहतर तरीके से दिखने में मदद मिलती है. इस आइने का भार मुश्किल से एक पौंड का दसवां हिस्सा होता है.

बैट्रियां बदलने का चल रहा काम

कसीडी और उनके साथी बॉब बेहन्केन पुराने स्टेशन की कुछ अंतिम बैट्रियों को बदलने का काम कर रहे हैं. नासा का कहना है कि जैसे ही लिथियम-आयोन की छह नई बैट्रियां बदल दी जाएंगी, यह अंतरिक्ष प्रयोगशाला अपने बाकी के जीवन काल के अभियान के लिए सही हो जाएगी.

जानकारों का कहना है कि बैट्रियां बदलना काफी भारी-भरकम काम है. दरअसल, हर एक बैट्री करीब एक मीटर लंबी और चौड़ी है और इसका भार 180 किलोग्राम है. ऐसे में अंतरिक्ष यात्रियों की यह स्पेसवॉक जुलाई तक चल सकती है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts