नेपाल ने की भारतीय मीडिया की शिकायत, कहा- चीनी राजदूत के मामले की कर रहे गलत रिपोर्टिंग

वरिष्ठ नेपाली नेताओं के साथ चीनी दूत की बैठकों की कवरेज को लेकर नेपाल (नेपाल) ने अपनी नाराजगी जताई है. उसने इस मुद्दे पर भारतीय मीडिया रिपोर्टों (Indian Media Reports) को निराधार और गलत अभियान का हिस्सा बताया है.
Nepal complaint against Indian media, नेपाल ने की भारतीय मीडिया की शिकायत, कहा- चीनी राजदूत के मामले की कर रहे गलत रिपोर्टिंग

भारतीय न्यूज चैनलों पर प्रतिबंध लगाने के बाद अब नेपाल (Nepal) ने औपचारिक रूप से भारत सरकार (Indian Government) से भारतीय मीडिया (Indian Media) की शिकायत की है.

भारतीय मीडिया रिपोर्ट्स को बताया निराधार

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, वरिष्ठ नेपाली नेताओं के साथ चीनी दूत की बैठकों की कवरेज को लेकर नेपाल ने अपनी नाराजगी जताई है. उसने इस मुद्दे पर भारतीय मीडिया रिपोर्टों को निराधार और गलत अभियान का हिस्सा बताते हुए भारत सरकार शिकायत की है.

नोट वर्बेल के जरिए की शिकायत दर्ज

रिपोर्ट के अनुसार इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया कि नेपाल के विदेश मंत्रालय ने पिछले हफ्ते भेजे नोट वर्बेल के जरिए शिकायत की है. हालांकि, भारत सरकार की तरफ से इस अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

नेपाल में भारतीय न्यूज चैनल बंद

वहीं इससे पहले 9 जुलाई को नेपाल में भारतीय न्यूज चैनलों पर रोक लगा दी गई थी. नेपाली केबल प्रोवाइडर्स ने कहा था, “देश में भारतीय समाचार चैनलों के सिग्नल को बंद कर दिया गए है. हालांकि अभी तक इस बारे कोई भी सरकारी आदेश नहीं आया है.”

“भारतीय मीडिया ने की सारी हदें पार”

वहीं नेपाल मीडिया के अनुसार पूर्व उप-प्रधानमंत्री और सत्तारूढ़ नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) के प्रवक्ता नारायण काजी श्रेष्ठ ने कहा, “नेपाल सरकार और हमारे पीएम के खिलाफ भारतीय मीडिया ने आधारहीन प्रचार करने की सारी हदें पार कर दी हैं. यह बहुत ज्यादा हो रहा है. बकवास बंद करो.”

सड़क से संसद तक PM ओली का विराध

दरअसल अपनी विदेश नीति को लेकर नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (KP Sharma Oli) का विरोध उनके ही देश में सड़क से लेकर संसद तक शुरू हो गया है. एक तरफ जहां नेपाल की विपक्षी पार्टियां उनकी विदेश नीति को लेकर हमलावर हैं तो वहीं दूसरी तरफ नेपाल की जनता ही केपी ओली के इस्तीफे की मांग कर रही है. केपी ओली की खुद की पार्टी में भी उनके इस्तीफे को लेकर मांग जोर पकड़ती जा रही है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts