नेपाल के पीएम ओली को फिर मिली मोहलत, पांचवींं बार टली NCP स्टैंडिंग कमेटी की बैठक

स्टैडिंग कमेटी (NCP Standing Committee) की बैठक को हिमालय गणराज्य (Himalayan Republic) के अलग-अलग हिस्सों में हो रही भारी बारिश, भूस्खलन और बाढ़ के कारण स्थगित किया गया है.
NCP standing committee meeting postponed, नेपाल के पीएम ओली को फिर मिली मोहलत, पांचवींं बार टली NCP स्टैंडिंग कमेटी की बैठक

नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी (NCP) की मॉस्टअवेटेड स्टैडिंग कमेटी (NCP Standing Committee) की बैठक को एक बार फिर से एक हफ्ते के लिए टाल दिया गया है. इतना ही नहीं पार्टी के भीतर प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली (PM KP. Sharma Oli) पर कार्यकाल छोड़ने को लेकर भी दवाब बढ़ रहा है.

ऑनलाइन मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, स्टैडिंग कमेटी की बैठक को हिमालय गणराज्य के अलग-अलग हिस्सों में हो रही भारी बारिश, भूस्खलन और बाढ़ के कारण स्थगित किया गया है. इस बाढ़ में एक बच्चे समेत कम से कम दो लोगों की मौत हो गई. जबकि 18 अन्य लापता हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

पांचवी बार टली बैठक

यह बात सामने आई है कि एनसीपी अध्यक्ष पुष्पा कमल दहल कल देर रात तक बैठक स्थगित करने के खिलाफ थे. हालांकि पार्टी के शीर्ष नेताओं माधव नेपाल और झलनाथ खनाल से जब अध्यक्ष की मुलाकात हुई तो वे बैठक को स्थगित करने को लेकर राजी हो गए. यह पांचवी बार है जब स्टैडिंग कमेटी की बैठक को टाल दिया गया है.

बैठक ऐसे समय पर स्थगित की गई है जब नेपाल में जारी सियासी संकट और भारत के साथ जारी मतभेद के बीच, नेपाल में भारतीय न्यूज चैनल्स पर रोक लगा दी गई है. नेपाली केबल प्रोवाइडर्स ने कहा, “देश में भारतीय समाचार चैनलों के सिग्नल को बंद कर दिया गए है. हालांकि अभी तक इस बारे कोई भी सरकारी आदेश नहीं आया है.”

वहीं एक तरफ तो नेपाल, भारत के साथ दुश्मनी पर उतारू है और दूसरी ओर उसकी चीन के साथ नजदीकियां काफी बढ़ रही हैं. काठमांडू, भारत की तरफ तो हथियार ताने हुए है, पर उसके पास चीनी राजदूत होउ यांकी के खिलाफ कोई शब्द नहीं है, जिसने नेपाल में प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया है. नेपाल में चीनी राजदूत के मुलाकात के तौर तरीके को लेकर नेपाल में काफी आलोचना हो रही है.

ओली की टिप्पणी से नाराज एनसीपी अध्यक्ष

एनसीपी अध्यक्ष पुष्प कमल समेत पार्टी के कई नेता पीएम ओली के भारत विरोध टिप्पणी से काफी नाराज है. उन्होंने पीएम ओली के इस्तीफे की मांग की है और साथ ही कहा कि हाल में में पीएम ओली ने जो भारत विरोधी टिप्पणी की वह न तो राजनीतिक रूप से सही थी और न ही राजनयिक रूप से उचित थी.

 

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts