नीरव मोदी पर कसा ED का शिकंजा, सिंगापुर के बैंक खातों में जमा 44.41 करोड़ रुपये फ्रीज

अब तक नीरव मोदी और उनकी बहन के 10 बैंक अकाउंट अटैच किए गए हैं, जिनमें कुल 12 मिलियन अमेरिकी डॉलर जमा थे.

नई दिल्‍ली: पंजाब नेशनल बैंक (PNB) से धोखाधड़ी के आरोपी नीरव मोदी पर शिकंजा कसता जा रहा है. अब सिंगापुर हाई कोर्ट ने भी मोदी की संपत्तियां जब्‍त करने के आदेश दिए हैं. सिंगापुर के चार बैंक खातों में जमा 44.41 करोड़ रुपये फ्रीज कर दिए गए हैं. यह रुपये मेसर्स पवेलियन पॉइंट कॉर्पोरेशन ने जमा कराए थे. ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड की यह कंपनी मयंक मेहता और पूर्वी मोदी (नीरव मोदी के बहनोई और बहन) की है.

ईडी ने पिछले सप्‍ताह स्विट्जरलैंड के ज्‍यूरिख में नीरव मोदी और उनकी बहन पूर्वी के छह बैंक खाते अटैच किए थे. उनमें 6.1 मिलियन डॉलर की रकम जमा थी. अब तक कुल 10 अकाउंट अटैच किए गए हैं, जिनमें कुल 12 मिलियन अमेरिकी डॉलर जमा थे.

प्रवर्तन निदेशालय की यह कार्रवाई नीरव मोदी की पत्नी व अमेरिकी नागरिक अमी मोदी के खिलाफ पूरक आरोपपत्र दाखिल करने के कुछ महीने बाद हुई हैं. अमी मोदी कथित तौर पर न्यूयॉर्क में सेंट्रल पार्क में खरीदे गए दो अपार्टमेंट की लाभार्थी हैं. एजेंसी ने कहा है कि इन अपार्टमेंट को तीन करोड़ डॉलर की धनशोधन की राशि से खरीदा गया, जिसे उसके पति ने पीएनबी से धोखाधड़ी से प्राप्त किया था.

इसके लिए नीरव मोदी ने पीएनबी के लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग और फॉरेन लेटर्स ऑफ क्रेडिट का इस्तेमाल किया था. यह आरोप पत्र 28 फरवरी को दाखिल किया गया. इसमें आरोप लगाया गया कि यह राशि अमी के एसएसबीसी बैंक के जरिए लाई गई थी.

नीरव और उसके मामा मेहुल चोकसी के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) 13,000 करोड़ रुपये की बैंक धोखाधड़ी मामले के संबंध में जांच कर रही हैं. 9 मार्च को हुई गिरफ्तारी के बाद से नीरव मोदी दक्षिण-पश्चिमी लंदन की वांड्सवर्थ जेल में बंद है.

ये भी पढ़ें

नहीं चलेगा मेहुल चोकसी की खराब सेहत का बहाना, ED एयर एम्‍बुलेंस भेजने को तैयार

मां नाश्‍ता नहीं खा पाई थी, बेटे ने चेन खींचकर रोक दी शताब्‍दी एक्‍सप्रेस