पुलवामा आतंकी हमले में जैश का हाथ होने से PAK ने किया इनकार

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी अपने इस बयान से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के बचाव में उतर आए हैं. वहीं, कुरैशी ने गुरुवार को यह बात कबूल की थी कि जैश का सरगना मसूद अजहर पाकिस्तान में ही है.

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पुलवामा में हुए आतंकी हमले में जैश-ए-मोहम्मद का हाथ होने से इनकार किया है. कुरैशी ने यह बात बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में कही है. उन्होंने कहा, “जिम्मेदारी लेने को लेकर काफी असमंजस है. हमारे यहां के कुछ लोगों ने जैश के टॉप लीडरशिप से बात की है. उन्होंने साफ तौर पर कहा कि यह हमला उन्होंने नहीं किया.” हालांकि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के तुरंत बाद ही जैश ने इसकी जिम्मेदारी खुद ली थी.

बीबीसी पत्रकार ने कुरैशी से पूछा कि वो कौन लोग हैं, क्या सरकार के लोग है? इस पर उन्होंने कहा कि नहीं हमारे लोग हैं. ऐसे लोग जो उनके संपर्क में हैं. कुरैशी ने यह भी कहा कि युद्ध किसी समस्या का समाधान नहीं हो सकता. उन्होंने कहा, “आज की तारीख में युद्ध किसी समस्या का समाधान नहीं हो सकता. एक-दूसरे के ऊपर मिसाइल हमले दागने से समस्या का हल नहीं निकलेगा. युद्ध करना आत्मघाती कदम साबित हो सकता है.”

गौरतलब है कि कुरैशी ने शुक्रवार को सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में मसूद के पाकिस्तान में होने की बात कबूली थी. साथ ही कुरैशी ने यह भी बताया था है कि मसूद अजहर इन दिनों बहुत बीमार है. और एक गंभीर बीमारी से तड़प रहा है. उसकी हालत इतनी खराब है कि वह घर से बाहर भी नहीं निकल सकता.