पाकिस्तान ने आतंकी मसूद अजहर को जेल से किया रिहा, IB ने जारी किया बड़े हमले का अलर्ट

पुलवामा हमलों के मास्‍टरमाइंड मसूद अजहर की रिहाई बहुत ही गुपचुप तरीके से की गई है.

पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना और पुलवामा हमलों के मास्‍टरमाइंड मसूद अजहर को जेल से रिहा कर दिया है. अजहर की रिहाई बहुत ही गुपचुप तरीके से की गई है. हिंदुस्तान टाइम्स ने इंटेलिजेंस इनपुट्स के हवाले से ये खबर दी है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान ने एलओसी पर राजस्थान के करीब आर्मी की कई टुकड़ियां तैनात की हैं. इंटेलिजेंस ब्यूरो ने सरकार को इस बात के इनपुट्स दिए हैं कि पाकिस्तान किसी बड़ी कार्रवाई की तैयारी कर रहा है.

राजस्थान बॉर्डर के करीब सैन्य टुकड़ियों की तैनाती
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. पाकिस्तान अपनी योजना के मुताबिक राजस्थान बॉर्डर के करीब अधिक संख्या में सैन्य टुकड़ियों की तैनाती कर रहा है. भारतीय आर्मी और बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स को इसे लेकर अलर्ट कर दिया गया है.

गौरतलब है कि भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ने शनिवार को दो आतंकियों के मामले का जिक्र करते हुए कहा था कि उनके आकाओं ने उन्हें कहा कि अगर उन्होंने अपना काम ठीक से पूरा नहीं किया तो उन्हें चूड़ियां पहना दी जाएंगी. डोभाल ने कहा कि पाकिस्तान ने कश्मीर में घुसपैठ के लिए करीब 230 आतंकियों को तैयार कर रखा है और उनमें से कुछ अशांति फैलाने के लिए सीमा पार भी कर चुके हैं.

“पाकिस्तान की ‘दुखती रग’ है कश्मीर”
वहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में कहा था कि कश्मीर पाकिस्तान की ‘दुखती रग’ है और इसके विशेष दर्जे को वापस लेने का भारत का फैसला देश की सुरक्षा और अखंडता को चुनौती देता है.

पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कहा था कि कश्मीर पाकिस्तान को संपूर्ण करने वाला ‘अधूरा एजेंडा’ है. उन्होंने कहा कि मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि कश्मीर पाकिस्तान को संपूर्णता प्रदान करने वाला अधूरा एजेंडा है. यह तब तक ऐसा रहेगा जब तक संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों के मुताबिक इसका समाधान न हो जाए.

ये भी पढ़ें-

पाकिस्तान को एक बार फिर संयुक्त राष्ट्र में पटखनी देने की तैयारी में भारत, कर रहा ये खास पहल

धर्मनिरपेक्षता की रक्षा करना कांग्रेस का कर्तव्य, ‘लाइट हिंदुत्व’ पार्टी को ले जाएगा शून्य की ओर: शशि थरूर

अमित शाह ने खारिज की आर्टिकल 371 में बदलाव की संभावनाएं