कश्मीर पर अमेरिका को ब्लैकमेल कर रहा पाकिस्तान, अफगान सीमा से सेना हटाने की दी धमकी

पाकिस्तानी राजदूत ने कहा कि पिछले दो हफ्ते से मोदी और इमरान खान सरकार के बीच कोई संपर्क नहीं हुआ है. असद ने कहा, ये दुर्भाग्यपूरण है लेकिन मुझे आशंका है कि आने वाले समय में चीजें और खराब होंगी.

कश्मीर ( Kashmir ) से धारा 370 (Article 370 )  के विशेष प्रावधान हटने के बाद पाकिस्तानी गुस्ताखी जारी है. अब वो भारत पर धौंस दिखाने के लिए अमेरिका (America) को ब्लैकमेल कर रहा है.

अमेरिका में पाकिस्तान (Pakistan) के राजदूत असद मजीद खान ने तालेबान के साथ अमरीकी शांति वार्ता के बिगड़ने की धमकी दी है.

असद ने कहा है कि कश्मीर की स्थिति के मद्देनजर अफगानिस्तान सीमा से सेना हटा कर इसे भारतीय सीमा पर भेजना पड़ सकता है. पाकिस्तान इसकी आड़ में तालेबान से शांति वार्ता कर रहे अमरीका पर दबाव डालना चाहता है.

माना जा रहा है कि अमेरिका और तालेबान के बीच शांति वार्ता अंतिम चरण में है. दो दिन पहले ही अमरीका के विशेष प्रतिनिधि जाल्मे खालिलजाद ने ट्वीट कर कहा था कि दो दिनों की वार्ता अहम मुकाम पर खत्म हुई है.

वो अब अमेरिका लौटे हैं जहां राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन से आगे की बातचीत का रास्ता तैयार होगा. ट्रंप ने अफगानिस्तान से अमेरिका सेना को हटाने का एलान किया है. इसके लिए अफगानिस्तान में शांति जरूरी है.

जंग की तरफ इशारा

पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा आंतकियों का पनाहगार रहा है. ऐसे में पाकिस्तान की नई चाल से शांति वार्ता पर असर पैदा हो सकता है.

न्यूयॉर्क टाइम्स को दिए इंटरव्यू में मजीद खान ने कहा कि कश्मीर और अफगानिस्तान अलग मुद्दे हैं और वो इन्हें जोड़ने की कोशिश नहीं कर रहे. पर वो ये भी कहना नहीं भूले कि कश्मीर की मौजूदा स्थिति पाकिस्तान के लिए सबसे अहम मुद्दा है.

अपनी दलील में असद ने कहा कि कश्मीर पर नरेंद्र मोदी सरकार का फैसला ऐसे समय में आया है जब पाकिस्तान का पूरा फोकस अफगान सीमा पर तालेबान की घुसपैठ रोकने पर है.

वो कहते हैं, अब हमारी जिम्मेदारी बदल सकती है. अगर पूर्वी बोर्डर पर स्थितियां बिगड़ी तो हमें उस तरफ फौज भेजनी होगी. अभी हम पूर्वी बोर्डर के अलावा कुछ और नहीं देख रहे.”

पाकिस्तानी राजदूत ने कहा कि पिछले दो हफ्ते से मोदी और इमरान खान सरकार के बीच कोई संपर्क नहीं हुआ है. असद ने कहा, ये दुर्भाग्यपूरण है लेकिन मुझे आशंका है कि आने वाले समय में चीजें और खराब होंगी. हालांकि वो विस्तार से बता नहीं पाए कि आखिर क्या होने वाला है लेकिन इशारा जंग की तरफ था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *