कुलभूषण जाधव को मिलेगी काउंसलर एक्सेस, ICJ के आदेश के आगे झुका पाकिस्तान

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने गुरुवार देर रात बताया कि एक जिम्मेदार देश होने के नाते कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच दी जाएगी.

नई दिल्ली: पाकिस्तान अपनी जेल में बंद भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच देने के लिए तैयार हो गया है. पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने गुरुवार देर रात बताया कि एक जिम्मेदार देश होने के नाते कुलभूषण जाधव को राजनयिक पहुंच दी जाएगी. मालूम हो कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) ने जाधव को राजनयिक पहुंच प्रदान किए जाने का फैसला सुनाया था.

‘जिम्मेदार देश होने के नाते पाकिस्तान…’
विदेश मंत्रालय ने कहा, ”आईसीजे के फैसले के आधार पर कमांडर कुलभूषण जाधव को राजनयिक संबंधों पर वियना संधि के अनुच्छेद 36 के पैराग्राफ 1(बी) के तहत उनके अधिकारों के बारे में सूचित कर दिया गया है. एक जिम्मेदार देश होने के नाते पाकिस्तान कमांडर कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान कानूनों के अनुसार राजनयिक पहुंच मुहैया कराएगा, जिसके लिए कार्य प्रणालियों पर काम किया जा रहा है.”

‘PAK कोई और फैसला पढ़ रहा’
भारत ने गुरुवार को पाकिस्तान द्वारा कुलभूषण जाधव मामले पर आईसीजे के फैसले को अपनी जीत बताने के दावे की निंदा की. भारत ने कहा कि ऐसा लगता है कि पाकिस्तान ‘पूरी तरह से कोई अलग ही फैसला पढ़ रहा है.’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, “पाकिस्तान के दावों पर कि वे जीते हैं, स्पष्ट तौर पर यह लगता है कि वे पूरी तरह से अलग फैसला पढ़ रहे हैं. अगर 42 पेज के फैसले को पढ़ने का संयम नहीं है तो उन्हें सात पेज की प्रेस रिलीज को पढ़ना चाहिए, जहां पर हर बिंदु भारत के पक्ष में है.”

फांसी की सजा पर रोक को बरकरार
बता दें कि आईसीजे ने बुधवार को न केवल जाधव की फांसी की सजा पर रोक को बरकरार रखा बल्कि पाकिस्तान से इस पर पुनर्विचार करने के लिए भी कहा. आईसीजे ने मामले में पाकिस्तान की तमाम आपत्तियों को खारिज कर दिया जिनमें इस मामले को सुनने की उसकी ग्राह्यता के खिलाफ दी गई दलील भी शामिल है. साथ ही अदालत ने पाकिस्तान के इस तर्क को भी खारिज कर दिया कि भारत ने जाधव की वास्तविक नागरिकता की जानकारी नहीं दी है.

ये भी पढ़ें-

अतीक अहमद के घर पर CBI का छापा, जब्त किया गया इतना कैश

भाई आनंद कुमार पर हुई IT विभाग की कार्रवाई से गुस्साईं मायावती, केंद्र सरकार पर लगाया ये आरोप

कर्नाटक संकट: किसी ने जमीन पर तो किसी ने सोफे पर सोकर बिताई पहली रात, देखिए तस्वीरें